बड़हरा विधायक एक और थानाध्यक्ष से उलझे, वर्दी उतरवाने की धमकी, विधायक ने किया इनकार

arrah

लाइव सिटीज डेस्क(पुष्कर पांडेय): बड़हरा के विधायक सरोज यादव फिर एक और थानाध्यक्ष से उलझ बैठेे. इस बार उनका झगड़ा कृष्णगढ़ के थानाध्यक्ष रामविलास के साथ मोबाइल पर हो गया. पुलिस का आरोप है कि थानाध्यक्ष को न सिर्फ अपने बहनोई के जमीन के लिए गालियां दी बल्कि जातिसूचक शब्द का प्रयोग किया. साथ ही वर्दी उतरवा लेने की धमकी दी. सूत्रों के अनुसार इस घटना के बाद बरीय अधिकारियों के निर्देश पर बड़हरा विधायक सरोज यादव के खिलाफ स्टेशन डायरी की गई है. आपको बता दे कि बड़हरा विधायक सरोज यादव का विवादों से पुराना रिश्ता रहा है, विधायक सरोज यादव का इससे पूर्व चरपोखरी के थानाध्यक्ष कुअर गुप्ता के अलावा एक दरोगा के साथ भी विवाद हुआ था.

क्या है मामला
मामला घांघर गांव 23 डिसमिल जमीन से जुड़ा हुआ है. सूत्रों के अनुसार बड़हरा के विधायक सरोज यादव एवं के रिश्तेदार नरेन्द्र यादव एवं मुन्ना सिंह के बीच 23 डिसमिल जमीन यानी सात  कठ्ठा को लेकर विवाद चला रहा था. रविवार को दोनों ही पक्ष नापी करने के लिए इकट्ठा थे इसी बीच पुलिस वालों का कहना है कि बड़हरा विधायक में अपने नंबर 8084 99 50 98 से फोन किया और कहा कि तुम कैसे इस जमीन में पड़ गए तुम्हारी वर्दी उतरवा लूंगा.

यह जानते हुए भी कि वह जमीन मेरे बहनोई की है यह कहते हुए दूसरी तरफ से भद्दी भद्दी गालियां दी जाने लगी. थाना अध्यक्ष रामविलास के अनुसार उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि विधायक जी इस तरह गालियां देना आपके शोभा नहीं देता है. विधायक द्वारा धमकी दिए जाने के बाद थाना अध्यक्ष रामविलास डरे हुए हैं.

क्या कहते हैं बड़हरा के विधायक सरोज यादव
बडहरा के विधायक सरोज यादव ने इसे सिरे से नकार दिया और कहा कि मैंने फोन जरुर किया था वह कृष्णगढ़ थाना प्रभारी ने मेरे साथ ही अभद्र व्यवहार किया.

नापी का काम सीओ की देखरेख में होता है ना कि थानेदार के. विधानसभा में विशेष हनन प्रस्ताव लाने की बात कही क्योंकि थानाध्यक्ष ने फोन उठाते ही कहा था कि बोलिए विधायक जी बोलिए न शिष्टाचार ना बोलने का ढ़ग.

यह भी पढ़े – मैट्रिक परीक्षा : मार्क्स बढ़ाने का झांसा देनेवाले गिरोह का सरगना गिरफ्तार, दो सदस्य भी दबोचे गये
भोजपुर में दर्दनाक सड़क हादसा, बारातियों से खचाखच भरी बस पलटी