जमुई में नक्सली ताडंव : गेटमैन को बनाया बंधक, रात भर नहीं चलीं ट्रेनें

लाइव सिटीज डेस्क / जमुई : एक बार फिर नक्सलियों के निशाने पर किउल-जसीडीह रेलखंड आ गया है. बीती रात जमुई रेलवे स्टेशन के निकट दर्जन भर से अधिक नक्सलियों ने गोपालपुर गांव के निकट जितेंद्र हॉल्ट के गुमटी मैन को आधा घंटा तक बंधक बना कर रखा. इससे पूरा प्रशासन सकते में है. गुरुवार की सुबह से ही जमुई से सटे जंगलों में एसपी जयंतकांत के नेतृत्व में प्रशासन सर्च अभियान चला रहा है.

बताया जाता है कि नक्सलियों ने गुरुवार को जमुई के इलाके में बंद बुलाया है. इसे लेकर पटना-हावड़ा रेलखंड पर जमुई के निकट भलुई रेलवे हॉल्ट पर आधी रात को लगभग डेढ़ दर्जन नक्सलियों ने हथियार के साथ धावा बोल दिया. जितेंद्र रेलवे हॉल्ट के निकट गोपालपुर गुमटी के गेटमैन मुनी मंडल को बंधक बना लिया.

गेटमैन मुंशी मंडल को बंधक बनाये जाने की सूचना जमुई के स्टेशन मास्टर और दानापुर रेलमंडल के अधिकारियों को दी गयी. इसके बाद तो रेलवे प्रशासन में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में पटना-जसीडीह रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया. इसे लेकर भलुई में साउथ बिहार एक्सप्रेस (दुर्ग एक्सप्रेस) और जमुई में मिथिला एक्सप्रेस को रोक दिया.

बताया जाता है कि नक्सलियों ने भलुई स्टेशन पर ट्रेन को भी अपने कब्जे में ले लिया था, लेकिन इसकी पुष्टि करने के लिए कोई तैयार नहीं है. वहीं ग्रामीण सूत्रों का भी कहना है कि नक्सलियों ने ट्रेन को रोका था, लेकिन किसी यात्री के साथ कुछ नहीं किया. जबकि, गेट मैन मुनी मंडल को आधा घंटा तक बंधक बना कर उसे दो किलोमीटर तक अपने साथ ले गया. उसके बाद मुनी मंडल को छोड़ दिया गया.

सुरक्षा के ख्याल से रेलवे ने घटना के बाद आधी रात से गुरुवार की सुबह तक ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया. गुरुवार की सुबह पायलट इंजन से पटरी का निरीक्षण किये जाने के बाद रेल परिचालन शुरू हो सका. इधर गुरुवार की सुबह से ही जमुई के एसपी जयंतकांत और एएसपी अभियान डीएन पांडेय के नेतृत्व में लगातार जंगलों में छापेमारी की जा रही है. हालांकि अभी तक पुलिस को किसी प्रकार की सफलता हाथ नहीं लगी है.

(साथ में जमुई से राजेश कुमार की इनपुट)

इसे भी पढ़ें : सोनपुर स्टेशन पर धू-धू कर जल उठी ट्रेन, मचा हड़कंप