पेट्रोल पंप के मालिक की हत्या से सूबे में दहशत, हत्यारों का अब तक सुराग नहीं

petrol pump
बेगूसराय में 23 मई को हुई घटना की जांच करती पुलिस.

लाइव सिटीज डेस्क : सूबे में अपराधी रह-रह कर पेट्रोल पंप को निशाना बना रहे हैं. कभी पेट्रोल पंप पर लूटपाट कर तो कभी हत्या कर वे पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं. इस बार फिर अपराधी पेट्रोल पंप के मालिक की गोली मार कर हत्या कर दी.

अपराधियों की दबंगई का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वे पेट्रोल पंप के मालिक की सीने में सटा कर गोली मारी गयी है. हत्या के लगभग 12 घंटा होने को है, लेकिन अब तक पुलिस को सुराग हाथ नहीं लगा है.

गौरतलब है कि पटना के रहनेवाले बेगूसराय के पेट्रोल पंप मालिक लक्ष्मी नारायण उर्फ छोटू (32 वर्ष) की बीती रात लगभग 10 बजे गोली मार हत्या कर दी गयी है. दिवंगत पेट्रोल पंप मालिक का घर कांटी फैक्ट्री रोड में है तथा उनका एक भाई सूर्यमणि सिंह कॉमर्स कॉलेज में प्रोफेसर हैं.

सूत्रों के अनुसार यह खूनी वारदात बिना नंबर की बाइक पर आये तीन अपराधियों ने की थी. वारदात को अंजाम देने के बाद सभी अपराधी आर्म्स लहराते हुए बेगूसराय के रजौरा की ओर फरार हो गये. घटना बेगूसराय मुफस्सिल थाना इलाके के हरदिया पेट्रोल पंप पर हुई.

petrol pump
बेगूसराय में 23 मई को हुई घटना की जांच करती पुलिस.

खास बात यह है कि इसी माह बेगूसराय में पेट्रोल पंप पर वारदात की यह तीसरी घटना है. इसके पहले 13 मई और 23 मई को भी बेगूसराय में पेट्रोल पंप पर लूटपाट हुई थी. बता दें कि 13 मई को बेगूसराय के साहेबपुर कमाल में अपराधियों ने बोल बम पेट्रोल पंप से डेढ़ लाख रुपये लूट लिये थे. अपराधी बाइक से आये और घटना को अंजाम देकर फरार हो गये. इस मामले में भी पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं.

इसी तरह 23 मई को बेखौफ अपराधियों ने पेट्रोल पंप पर धावा बोल वहां के मुंशी की हत्या कर 1.50 लाख रुपये लूट लिया था. इतना ही नहीं, उस घटना में भी अपराधी आराम से निकल भागे थे. उस घटना में 2 बाइक पर सवार होकर 4 अपराधी वहां पहुंचे थे. पेट्रोल भराने के बाद काउंटर पर गये और पैसा देने के बजाय फायरिंग कर दी. इसी में पंप के मुंशी दरभंगा निवासी रमण झा की मौत हो गयी थी.

इधर सूबे में पेट्रोल पंप पर लगातार लूटपाट होने से पटना के पेट्रोल पंप मालिकों व एसोसिएशन में आक्रोश व्याप्त है. वे बार बार पुलिस प्रशासन से लगातार घटना पर अंकुश लगाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन घटना है कि थम नहीं रही है.

बता दें कि इसे लेकर 11 अप्रैल को पटना में पेट्रोल पंप मालिकों ने 12 घंटे का आंदोलन भी किया था. राजधानी के सभी पेट्रोल पंप बंद रखे गये थे, लेकिन इसका अब तक कोई फायदा नहीं हुआ है. उसके बाद से सिर्फ बेगूसराय में पेट्रोल पंप पर दो की हत्या अब तक हो चुकी है.

इसे भी पढ़ें :  बेगूसराय में पेट्रोल पंप पर हत्या, सरेशाम लूट 
पेट्रोल पंप मालिक की हत्या कर 4 लाख रुपये लूट कर अपराधी फरार 
लगातार पटना के पेट्रोल पंप बन रहे निशाना, अब फतुहा पंप से 2.5 लाख की लूट