अपराधियों को पकड़ने में पटना पुलिस फेल, ठेकेदार और ड्राइवर के हत्यारों का अब तक सुराग नहीं

पटना (अजीत) : राजधानी के नौबतपुर और फुलवारीशरीफ में हुई दो हत्याओं के मामले में पुलिस के हाथ अब भी खाली हैं. पुलिस अंधेरे में तीर चला रही है. सीसीटीवी फुटेज में भी हत्यारों का कोई सुराग नहीं मिल सका है. लागातार जांच जारी है. छापेमारी भी हो रही है लेकिन रिजल्ट नहीं मिल पा रहा है. उम्मीद है कि जल्द ही हत्यारे सलाखों के पीछे होंगे.

बता दें कि फुलवारीशरीफ के गोपालपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले ऑटो ड्राइवर अविनाश कुमार की हत्या को पांच दिन बीत जाने के बाद भी हत्यारों का कोई सुराग नहीं है. इस हत्याकांड में बेऊर थाने की पुलिस टीम किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है. घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा को खंगालने पर लगी है.

पुलिस घटना स्थल से लेकर बाईपास तक कई स्थानों पर लगे सीसीटीवी के फुटेज खंगालने में जुटी है. लेकिन अब तक कुछ ख़ास सफलता नहीं लगी है. अब तक पुलिस न तो अपराधियों की पहचान की है और न ही वारदात के पीछे के सही कारणों का पता लगा पायी. खंगाले गये सीसीटीवी कैमरे में कोई सबूत नहीं मिला है. नामजद अभियुक्त कृष्णा राय की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है.

उधर ठेकेदार धीरज कुमार की हत्या हुऐ बारह दिन गुजर गये हैं, मगर पुलिस के हाथ हत्यारों की गिरफ्तारी के मामले में खाली हैं. पुलिस ने कई ठिकानों पर छापेमारी की है. लेकिन कोई सुराग नहीं मिला.

मालूम हो कि 21 जून को अपराधियों ने दिनदहाड़े नौबतपुर शिवाला रोड के पास ठेकेदार धीरज सिंह को गोलियों से भून डाला था. जानीपुर थाने की पुलिस खून से लथपथ धीरज सिंह को चिंताजनक हालत में इलाज के लिए सगुना मोड़ के एक निजी हॉस्पिटल में ले गयी. जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

यह भी पढ़ें-

पटना में ठेकेदार को दिनदहाड़े गोलियों से भूना, इलाके में सनसनी
राजधानी में दिनदहाड़े ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, पिस्टल लहराते फरार हुए अपराधी