देखें वीडियो : पेट्रोल पंप मालिक का शव पहुंचा पटना, घर पर मचा कोहराम

पटना/बेगूसराय : बेगूसराय से पेट्रोल पंप मालिक लक्ष्मी नारायण उर्फ छोटू का शव पटना के भूतनाथ रोड स्थित आवास पर पहुंचते ही कोहराम मच गया. पत्नी प्रिया और मां रेशमी देवी का रो-रोकर बुरा हाल है. पिता जगतानंद प्रसाद सिंह की भी स्थिति खराब हो गयी है. शव को देखने के लिए मुहल्ले वालों की वहां भीड़ जुट गयी. मालूम हो कि पटना निवासी पेट्रोल पंप मालिक लक्ष्मी नारायण की बीती रात बेगूसराय में अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी. उधर इस मामले में तीन अपराधियों के गिरफ्तार करने की बात कही जा रही है. अपराधियों से एक पिस्टल, 3 देसी पिस्तौल, 10 कारतूस, दो बाइक बरामद किये गये हैं.

बीती रात हुई थी हत्या

जानकारी के अनुसार बेगूसराय में पेट्रोल पंप चलाने वाले 36 वर्षीय लक्ष्मी नारायण उर्फ छोटू का शव शनिवार को लगभग 11 बजे पटना पहुंचा. भूतनाथ रोड स्थित टीवी टावर के निकट घर पर उनका शव पहुंचते ही कोहराम मच गया. घर पर माता-पिता समेत पत्नी का रो-रोकर हालत खराब है. समझाने वाले लोग भी उनकी स्थिति देख कर रो पड़ते हैं. मृतक को एक पांच साल की बेटी मीठी है. कुछ लोग उन्हें भी संभालने में लगे थे. यहां क्लिक कर देखें वीडियो.

https://youtu.be/A_cs4mFed58

मृतक के भाई पटना के ही गंगा देवी कॉलेज में प्रोफेसर हैं. वे बताते हैं कि छोटू घर में सबसे सरल और शांत का स्वभाव का लड़का था. उसे किसी से दुश्मनी नहीं थी. बेगूसराय में पेट्रोल पंप खोले हुए था. बीती रात पंप से चंद कदम की दूरी ही थाने से लेकर डीएम, एसपी और कई प्रशासनिक महकमे का आवास है. इसके बावजूद अपराधियों ने उसकी गोली मार कर हत्या कर दी.

रो-रोकर मां रेशमी देवी की हालत खराब

वे बताते हैं कि 10 साल पहले भी पेट्रोल पंप के एक कर्मचारी को गोली मार दी गयी थी. इधर वहां पर असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लग रहा था और उनकी गतिविधियां बढ़ गयी थी. लोग थाने में असामाजिक तत्वों के खिलाफ़ सनहा भी लिखा रहे थे, इसके बाद भी पुलिस ने किसी तरह की कार्रवाई नहीं की और अपराधी मेरे भाई की हत्या कर दी.

पुत्र की मौत के गम में पिता भी रो पड़े

मृतक लक्ष्मी नारायण उर्फ छोटू पेट्रोल पंप से लगभग 3.5 किलोमीटर दूर बेगूसराय में ही रहते थे. उन्होंने विश्वनाथ नगर स्थित न्यू कॉलोनी में मकान बना रखा था तथा डेली वहीं से वे पेट्रोल पंप पर जाते थे. गौरतलब है कि चार भाइयों में छोटू सबसे छोटा था. छोटू के दो भाइयों की पहले ही हादसे में मौत हो चुकी है. वर्ष 2016 में दूसरे नंबर के भाई उत्पल कुमार की मौत हाथीदह में ट्रेन से कट जाने के कारण हो गयी थी, जबकि तीसरे नंबर के भाई पप्पू कुमार की मौत वर्ष 2002 में सड़क हादसे में हो गयी थी. सबसे बड़े भाई पटना में गंगा देवी कॉलेज में प्रोफेसर हैं.

पटना स्थित घर पर रोती-बिलखती मां व पत्नी

3 आरोपियों की गिरफ्तारी का दावा

बताया जा रहा है कि जिस पेट्रोल पंप पर वारदात हुई है, उस पर 10 सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे. उन कैमरों के फुटेज को खंगाला जा रहा है. उसके आधार पर अपराधियों की पहचान की कोशिश की जा रही है. उधर बेगूसराय पुलिस तीन अपराधियों को गिरफ्तार करने की बात कही है. इस संबंध में बेगूसराय एसपी रंजीत कुमार मिश्रा ने शनिवार को बताया कि देर रात गश्ती के दौरान नगर थानाध्यक्ष मो अली साबरी के नेतृत्व में तीनों अपराधियों को गिरफ्तार कर उसके पास से पिस्तौल व कारतूस बरामद किये गये हैं.

अपराधियों के बारे में जानकारी देते बेगूसराय एसपी रंजीत कुमार मिश्रा

उनसे पूछताछ में खुलासा हुआ है कि ये तीनों अपराधी 26 मई को हरदिया पेट्रोल पंप के मालिक लक्ष्मी नारायण सिंह की हत्या व लूट तथा 23 मई की शाम रमजानपुर स्थित अरूण पेट्रोल पंप पर लूट व मुंशी की हत्याकांड में शामिल थे. गिरफ्तार अपराधियों से गहन पूछताछ की जा रही है. उन्होंने बताया कि पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी से भी मामले की पड़ताल की जा रही है.

जुलकर नैन/बिनोद कर्ण की रिपोर्ट

इसे भी पढ़ें :
पेट्रोल पंप के मालिक की हत्या से दहशत, हत्यारों का अब तक सुराग नहीं