Follow Up : जहानाबाद में पुलिस फेल ! एक महीने में लूट की दो बड़ी वारदातों से उठे सवाल

जहानाबाद (मुकेश कुमार) : जहानाबाद पुलिस पर अब सवाल उठ रहे हैं. लोगों का कहना है कि यहां की पुलिस कुछ करती नहीं है. दरअसल ये सवाल उठ रहे हैं बढ़ते क्राइम को लेकर. पिछले एक महीने में लूट की दो बड़ी वारदातों से शहर में सनसनी है. ऐसा लगता है अपराधियों के हौसले बुलंद हैं यहां. और पुलिस पस्त. शहर में क्रिमिनल्स का आतंक पहले से काफी बढ़ चुका है.
बता दें कि एक माह के अन्दर शहर में बैंक कैश वैन से लूट की दूसरी बड़ी वारदात ने सनसनी मचा दी है. नये टाउन इंस्पेक्टर के पदस्थापना के बाद शहर में जिस कदर अपराध का ग्राफ बढ़ा है, उससे टाउन थाने की पुलिसिंग पर सवालिया निशान उठना लाजिमी है. अपराधियों का हौसला इस कदर बढ़ रहा है कि शहर के बीचो-बीच रीच लूक व्यवसायिक प्रतिष्ठान पर सरेशाम एक नहीं दो-दो बार फायरिंग हुई. इसी तरह शहर के जाफरगंज में गुरूवार की रात अपराधियों ने तबातोड़ फायरिंग कर खौफ का माहौल बना दिया.
शहर की सुरक्षा और विधि व्यवस्था को लेकर रिलैक्स रहने वाले पुलिस कप्तान अब परेशान रहने लगे हैं. पिछले 5 जून को जिस नाटकीय ठंग से जीवन बीमा निगम के समीप से कैश वैन से 13 लाख 52 हजार लूट लिए गए उसे अभी तक लोग भूल नहीं पाए हैं. पुलिस की जांच में नतीजा अब तक जीरो है.
उधर शनिवार को अपराधियों ने एक बार फिर से बैंक की कैश वैन को निशाना बनाते हुए दिनदहाड़े 22 लाख रुपये लूट लिये हैं. कैश की लूट के साथ ही वैन के गार्ड का हथियार भी छीन लिया गया.
जानकारी के मुताबिक घटना जिला मुख्यालय स्थित नया टोला मुहल्ले के रेलवे लाइन के पास हुई. शनिवार दोपहर लगभग दो बजे के करीब इस घटना को अंजाम दिया गया. कुछ हथियारबंद लुटेरों ने कैश वैन को रुकवा कर उसके गनमैन बिरेन्द्र शर्मा पर पिस्टल तान उन्हें अपने कब्जे में ले लिया. इसके बाद वैन में रखी रकम लूट कर फरार हो गए.
यह भी पढ़ें-
कैश वैन को फिर लूटा, हथियार के नोक पर 22 लाख ले भागे