संजय यादव के घर पर चिपकाया इश्तेहार, सरेंडर के लिए छह दिन का दिया समय

Banka2

लाइव सिटीज डेस्क : गोड्डा के पूर्व विधायक संजय यादव के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई तेज हो गयी है. भागलपुर के डीआईजी विकास वैभव के कड़े रूख और बांका कोर्ट के गिरफ्तारी आदेश के बाद पुलिस हरकत में आ गयी है. बताया जाता है कि बांका पुलिस ने पूर्व विधायक के घर पर इश्तेहार चिपका कर उन्हें सरेंडर करने की मोहलत दी है. इसे लेकर बाराहाट पुलिस ने ढाका मोड़ स्थित उनके घर पर इश्तेहार चिपकाया है.



उधर पूर्व विधायक संजय यादव की ओर से गुरुवार को बांका कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर की गयी थी. इस पर आज सुनवाई के दौरान जज ने पुलिस से केस डायरी की मांग की है. इस पर अगली सुनवाई 24 मई को होगी. गौरतलब है कि जय माता दी कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम करने वाले साइट इन चार्ज भूषण ने संजय यादव पर रंगदारी और उनके बेगूसराय स्थित घर पर फायरिंग करने की पुलिस से शिकायत की थी. इस मामले को भागलपुर के नये डीआईजी विकास वैभव ने गंभीरता से लिया था.

 

गौरतलब है कि भागलपुर जोन में डीआईजी के पद पर ज्वाइन करने के तुरंत बाद आईपीएस अधिकारी विकास वैभव ने साफ कर दिया था कि किसी भी हाल में अपराध को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. बता दें कि डीआईजी विकास वैभव को जब संजय यादव के खिलाफ शिकायत मिली तो उन्होंने बांका एसपी को पूर्व विधायक संजय यादव की संपत्ति की जांच करने का आदेश तुरंत दे दिया. वहीं बांका कोर्ट ने भी संजय यादव के खिलाफ गिरफ्तारी आदेश जारी कर दिया.

Banka

इसे लेकर बांका जिले के बाराहाट थाने की पुलिस ने बुधवार को पूर्व विधायक संजय यादव के ढाका मोड़ स्थित घर पर इश्तेहार चिपकाया, जिसमें छह दिनों की मोहलत दी गयी है. कहा गया है कि निर्धारित समय पर यदि वे सरेंडर नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ घर की कुर्की जब्ती की जायेगी. उधर गुरुवार को बांका कोर्ट में संजय यादव की अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनवाई हुई. कोर्ट की ओर से पुलिस से केस डायरी मांगी गयी है. इस पर अगली सुनवाई 24 मई को होगी.

इसे भी पढ़ें : गिरफ्तार होंगे पूर्व विधायक संजय यादव, कोर्ट ने दिया आदेश

Banka 1