छात्रा की दुष्कर्म के बाद हत्या, विरोध में सड़क जाम

मधुबनी : मिथिलांचल का हर्ट कहे जानेवाले और पेंटिंग्स के लिए फेमस मधुबनी इन दिनों अपराधियों के निशाने पर है. अपराधों में लगातार इजाफा हो रहा है. इससे इलाके के लोग दहशत में हैं. पुलिस के प्रति लोगों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है. शनिवार की दोपहर मधुबनी के भच्छी गांव में चाकू से गोदकर पिता और बेटी की बेरहमी से हत्या का मामला अभी गरमाया हुआ ही है कि एक और हत्या ने शहर की नींद उड़ा दी है. अपराधियों ने सातवीं की छात्रा की हत्या कर दी है. इसे लेकर लोग काफी आक्रोशित हैं.

बताया जाता है कि अंधरामठ थाने में अपहृत सातवीं की छात्रा नैंसी झा की बदमाशों ने हत्या कर सड़क किनारे लाश फेंक दी. हत्या से पहले उसके साथ दुष्कर्म करने की भी बात कही जा रही है. सूत्रों के अनुसार 25 मई को नैंसी का अपहरण कर लिया गया था. इधर घटना के विरोध में आक्रोशित लोगों ने घटना के विरोध में सड़क को जाम कर दिया है. प्रदर्शनकारी पुलिस के खिलाफ नारे लगा लगा रहे थे.

दरअसल एमएमपी पब्लिक स्कूल के डायरेक्टर रवींद्र नारायण की पुत्री थी. वह तीन दिन पहले 25 मई को उसका अपहरण कर लिया गया था. पुलिस में इसे लेकर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी, लेकिन पुलिस की ओर से किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गयी. सूत्रों के अनुसार नैंसी का शव बीती रात मिला है. ग्रामीणों की मानें तो अपराधियों ने हत्या करने के पहले छात्रा के साथ दुष्कर्म भी किया है.

घटना को लेकर इलाके में तनाव है. घटना के विरोध में लोग सड़क पर उतर आये हैं. वे लोग पुलिस के खिलाफ नारे लगा रहे हैं. दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं. लोगों को कहना है कि पुलिस जानबुझकर कार्रवाई नहीं करती है, इससे अपराधियों का मनोबल लगातार बढ़ता जा रहा है.

इसे भी पढ़ें : बाप-बेटी की चाकू से गोदकर हत्या, भीड़ ने आरोपी का घर फूंका