गौरीचक पेट्रोल पंप लूटकांडः किसी अपने ने की गद्दारी, खंगाल रही है पुलिस

पटनाः राजधानी के गौरीचक इलाके में हुई पेट्रोल पंप लूट मामले में पुलिस की पड़ताल में सच्चाई सामने आनी शुरू हो गई है. एसएसपी मनु महाराज की टीम को शुरूआती जांच में कई क्लू मिले हैं. बताया जा रहा है कि भेदी कोई अपना ही है. किसी कर्चमचारी ने ही साजिश को अंजाम दिया है. पेट्रोल पंप के किसी कर्मचारी ने ही गद्दारी की है.

पुलिस की प्राथमिक जांच में इस तरह के संकेत मिले हैं. अगल-बगल में दुकान लगानेवाले भी पुलिस के निशाने पर हैं. क्योंकि, पैसा हर दो दिन पर पेट्रोल पंप के सामने मौजूद पीएनबी की शाखा में जमा होने जाता था. हर बार दो बैग में पैसे ले जाये जाते थे. लेकिन, अपराधियों ने एक बैग को लूटा और दूसरा छोड़ दिया है. इसमें पुलिस को साजिश दिख रही है. पुलिस को ऐसा लग रहा है कि दूसरा बैग, जिसमें 13 लाख रुपये थे, जानबूझ कर छोड़ा गया है.

अपराधियों की संख्या चार थी, दो-दो की संख्या में दो बाइक से थे. जिस तरह आसानी से लूट हुई है उससे अपराधी चाहते, तो दोनों बैग लूट लेते. पुलिस को यह शक न हो कि पेट्रोल पंप का कोई कर्मचारी शामिल है, इसलिए एक बैग को लूटा गया. गौरतलब है कि जिस बैग को लूटेरों ने लूटा उसमें ज्यादा पैसे थे, जिसे छोड़ा उसमें रकम कम थी. हालांकि, यह आशंका भर है, पुलिस इन बिंदुओं पर छानबीन कर रही है.

सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है पुलिस

पुलिस ने आसपास मौजूद सीसीटीवी फुटेज को खंगालने शुरू कर दिये हैं. पेट्रोल पंप के आसपास मौजूद दुकानदार व अन्य लोगों से भी पूछताछ की जा रही है. पुलिस ने लूट करनेवाले गैंग को रडार पर ले लिया है. उनकी छानबीन चल रही है. कई जगहों पर छापेमारी भी हुई है. पुलिस इस संबंध में जेल में बंद अपराधियों से भी पूछताछ कर सकती है.

इससे पहले भी हुई हैं लूट की कई वारदातें

बता दें कि इससे पहले, बाढ़ में कैश वैन से 60 लाख की लूट को अंजाम दिया गया था. बाढ़ के अलावा सिर्फ पटना में कई जगहों के पेट्रोल पंप को निशाना बना कर लुटेरो ने पंपों को खूब लूटा है. 8 मार्च को फतुहा के पेट्रोल पंप से बदमाशों ने हथियार के बल पर 2.5 लाख रुपये लूट लिए थे.

4 जनवरी को फतुहा के ही नयका रोड के इसी पेट्रोल पंप में बदमाशो ने लूट को अंजाम दिया था. जिसमे 2 लाख रुपये लूट लिए गये थे. 18 जनवरी को बख्तियारपुर में भी दिया था लूट को अंजाम, लेकिन मौके पर पुलिस के आ जाने पर कैश और बाइक छोड़ कर अपराधी फरार हो गए थे.

वहीं 9 जनवरी को भी पटना के ही एक पेट्रोल पंप को निशाना बनाया गया. 8 अज्ञात हथियारबंद अपराधियों ने मिलकर मसौढी-पटना एन-एच 1 पर धनरुआ में स्थित शेखर फिलिंग स्टेशन से अहले सुबह करीब 6 लाख रुपए की लूट को अंजाम दिया था . सिर्फ यही नहीं लगातार पेट्रोल पंप कर्मियों की हत्या भी की जा रही है. बीते दिनों पहले ही अपराधियों ने लूट के दौरान कहीं पंप मैनेजर तो कहीं पंप कर्मियों की हत्या कर दी थी.

यह भी पढ़ें-

पटना में फिर से पेट्रोल पंप पर बड़ी लूट, 19 लाख ले उड़े लुटेरे
गोपालगंज में पेट्रोल पंप पर 5 लाख की लूट, सेल्समैन को मारी गोली
मधुबनी के बाद अब भागलपुर के पेट्रोल पंप से 5 लाख की लूट