दारू के नशे में जदयू नेता का बेटा गिरफ्तार, डॉक्टर समेत तीन अन्य भी दबोचे गये

breaking

बखरी/बेगूसराय (बिनोद कर्ण) : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शराबबंदी अभियान को बखरी में जदयू नेता व उनके समर्थक ही पलीता लगाने में जुटे हैं. यह खुलासा एक्साइज के छापे में हुआ है. पूरा मामला जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है.

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि एक्साइज टीम ने बखरी थाना क्षेत्र के डरहा गांव स्थित पावर हाउस के सामने लीची बागान में छापेमारी कर शराब पीते जिला जदयू नेता पूर्व मुखिया रामशरण राय के पुत्र राजकुमार राय, डाॅक्टर मृत्युंजय, पूर्व पंचायत समिति सदस्य योगेंद्र महतो के भतीजे मुकेश राय समेत कुल चार को शराब पीते रंगे हाथों अरेस्ट कर लिया. इनके पास से शराब की कई बोतलें भी बरामद की गयी हैं.

breaking

डरहा गांव के लोगों ने लाइव सिटीज को बताया कि गिरफ्तार सभी लोग इस इलाके में अंग्रेजी शराब के बड़े धंधेबाज हैं. लोगों का आरोप है कि सभी आरोपी दबंग हैं और स्थानीय पुलिस की मिलीभगत से शराब के धंधे में लिप्त हैं. गुप्त सूचना पर बेगूसराय से पहुंची एक्साइज टीम की हाईप्रोफाइल छापेमारी की खबर बखरी इलाके में जंगल में आग की तरह फैल गई. मौके पर बड़ी संख्या में लोग जुट गए थे.

बताया जाता है कि एक्साइज विभाग के अधिकारियों पर पूर्व मुखिया व जदयू नेता रामशरण राय ने अपने पुत्र को छुड़ाने के लिए काफी दबाव भी बनाया. मगर, उनकी एक नहीं चली. बहरहाल, बखरी में अंग्रेजी शराब के धंधेबाजों के खिलाफ इस बड़ी कार्रवाई से लोगों में खुशी है. लोगों ने बताया कि सालभर पहले सरकार ने शराबबंदी तो लागू कर दी, मगर बखरी थाना क्षेत्र में शराब के धंधेबाज बखरी पुलिस से सेटिंग कर शराबबंदी कानून को ठेंगा दिखा रहे थे.

इसे भी पढ़ें : पटना में दो ट्रक शराब जब्त, बिहार में कई जगहों से 13 गिरफ्तार 
राज्‍यपाल की सुरक्षा संभालेंगे, अभी चला रहे हैं शराबबंदी ऑपरेशन