TOPPER SCAM : जिस स्कूल से गणेश ने किया था मैट्रिक, वहां की प्रिंसिपल पति-बेटे संग गिरफ्तार

लाइव सिटीज डेस्क : इंटरमीडिएट के आर्ट्स टॉपर गणेश के मामले में शिक्षा माफियाओं की मुश्किलें ​बढ़ती जा रही हैं. फर्जी टॉपर बनाने के ​खेल में जुटे मास्टरमाइंड संजय के पकड़े जाने के बाद पुलिस ने स्कूल की महिला हेडमास्टर समेत उनके पति को भी गिरफ्तार कर लिया है. यह पुलिस की बड़ी सफलता मानी जा रही है.

जानकारी के अनुसार समस्तीपुर के शिवाजी नगर स्थित संजय गांधी उच्च विद्यालय लक्ष्मीनिया की हेडमास्टर देव कुमारी को पटना पुलिस ने देर रात रोसड़ा से गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही उनके पति विद्यालय के पूर्व सचिव रामकुमार चौधरी व किरानी पुत्र गौतम कुमार को भी पुलिस ने पकड़ा है. सूत्रों की मानें तो उनसे पूछताछ की जा रही है. पुलिस को उम्मीद है कि कई खुलासे सामने आ सकते हैं. बता दें कि पूर्व सचिव रामकुमार चौधरी भाकपा से भी जुड़े हैं.

गौरतलब है कि संजय गांधी उच्च विद्यालय से ही गणेश ने मैट्रिक की परीक्षा पास की थी. इसमें मास्टर माइंड ठेकेदार संजय का अहम रोल था. उसने ही प्रिंसिपल देव कुमारी की मिलीभगत से गणेश का वहां एडमिशन कराया था. शनिवार को उनके पति रामकुमार चौधरी से पुलिस ने पूछताछ की थी. पूछताछ में ही ठेकेदार संजय के खिलाफ सबूत मिले थे. सूत्रों की मानें तो पुलिस ने दिन में संजय को गिरफ्तार करने के बाद देर रात आरोपी प्रिंसिपल देव कुमारी, पति रामकुमार चौधरी और किरानी पुत्र गौतम कुमार को गिरफ्तार किया है. हेडमास्टर को शिवाजी नगर से तो पति व बेटे को रोसड़ा के शारदा नगर कॉलोनी से गिरफ्तार किया गया है.

 

संजय गांधी उच्च विद्यालय

बता दें कि बिहार बोर्ड के फर्जी टॉपर घोटाले में पहले दिन से लगातार खुलासा कर रही लाइव सिटीज की स्‍पेशल इन्‍वेस्‍टीगेशन टीम लगातार खुलासा कर रही है. कल ही लाइव सिटीज ने यह खुलासा कर दिया था कि जिस स्कूल से गणेश ने मैट्रिक पास किया है, वहां पढ़ाई के नाम पर कुछ नहीं है. जांच में यह भी जानकारी मिली कि संजय गांधी उच्च विद्यालय लक्ष्मीनिया सिर्फ कागज़ पर ही चलता है. एक बोर्ड तक स्कूल में नहीं है. यह वही स्कूल है जहां से गणेश ने मैट्रिक परीक्षा प्रथम श्रेणी से पास किया था.

ganesh

हालांकि हेडमास्टर देव कुमारी और उनके पति रामकुमार चौधरी व बेटे गौतम कुमार की गिरफ्तारी के बारे में पटना के डीएसपी कोतवाली शिबली नोमानी ने सीधे तौर पर इनकार नहीं किया है. उन्होंने कहा कि कई जगहों पर छापेमारी की जा रही है. संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में भी लिया जा रहा है. डीएसपी ने आधिकारिक तौर पर किसी गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की है. उन्होंने कहा कि जो भी होगा, उसके बारे में आधिकारिक तौर पर बताया जायेगा.

(समस्तीपुर से कौशलेंद्र/रोसड़ा से राजू गुप्ता/ पटना से नियाज आलम की रिपोर्ट) 

इसे भी पढ़ें : TOPPER SCAM : पुलिस की गिरफ्त में रैकेट का सबसे बड़ा ठेकेदार संजय कुमार 
पप्‍पू ने पूछा, सिर्फ गणेश को ही जेल क्‍यों, उम्र में हेर-फेर तो तेजप्रताप-तेजस्‍वी ने भी की है