70 किलो महुआ के साथ दो महिलाएं गिरफ्तार, फरार होने के लिए चला हाई प्रोफाइल ड्रामा…

police

लाइव सिटीज डेस्क (पुष्कर पांडेय/आलोक भारती) : 2 महिलाओं द्वारा शराब बनाने के धंधे की जानकारी कोईलवर पुलिस को पहले ही लग चुकी थी. इससे पहले कि पटना जिले की रहनेवाली दोनों महिलाएं भोजपुर जिले के कोईलवर थाना क्षेत्र के रास्ते 70 किलो जावा महुआ बटोर कर फुलवारी शरीफ ले जाने में कामयाब होती, उससे पहले ही वह पकड़ी गई. ऑटो से कूदकर दोनों महिलाओं ने भागने का प्रयास किया. लेकिन तेज तरार कोईलवर पुलिस के थानाध्यक्ष एवं जवानों ने पीछा नहीं छोड़ा. पकड़ी गई एक महिला ने आरक्षित को दांत काट कर चंगुल से बचना चाहा, लेकिन सफल नहीं हो सकी.

 

 

पटना जिले के फुलवारीशरीफ की रहनेवाली दोनों महिलाओं के साथ गाड़ी का ड्राइवर भी पकड़ा गया, जो जावा महुआ ले जाने में सहयोग कर रहा था. तीनों की गिरफ्तारी में कोईलवर थानाध्यक्ष पंकज सैनी की महत्वपूर्ण भूमिका रही. पुलिस कप्तान क्षत्रनील सिंह के निर्देश पर कोईलवर थानाध्यक्ष पंकज सैनी लगातार अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ एवं गांजा तस्करों के खिलाफ अभियान चला रहे हैं अभी 3 दिनों पहले ही उन्होंने गांजे के तस्कर को कोईलवर वार्ड नंबर 3 से गिरफ्तार किया था.

 

 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस कप्तान क्षत्रनील सिंह को यह जानकारी हाथ लगी की फुलवारी शरीफ पटना की रहने वाली दो महिलाएं जावा महुआ लेकर जा रही है. उन्होंने तत्काल कोईलवर थानाध्यक्ष को छापेमारी करने का निर्देश दिया. बिना एक पल गंवाए थानाध्यक्ष पंकज सैनी ने कोईलवर चौक पर छापेमारी की तो निर्मला कुंवर एवं मालती देवी 70 किलो जावा महुआ के एक ऑटो में सवार थी.

 

 

 

पुलिस को देखते ही दोनों महिलाएं उतर कर भागने लगी. एक महिला के पीछे थानेदार महिला कॉन्स्टेबल के साथ पकड़ने के लिए भागे तो दूसरी तरफ तो आरक्षी दूसरी महिला को पकड़ने के लिए दौड़े.

 

 

 

इतने में एक महिला पकड़ में आते ही दांत काट कर भागने का प्रयास किया लेकिन वह पुलिसिया चुंगल से बच नहीं सकी. पकड़ी गई दोनों महिलाएं फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र के गोविंदपुर की रहने वाली है, जबकि पकड़ा गया ड्राइवर कोईलवर थाना क्षेत्र के फरंगीपुर का बासुकीनाथ राय है.

 

 

 

पकड़ी गई दोनों महिला तस्करों ने पहले तो आॅटो से भाग कर पुलिस को छकाया. एक महिला ने आरक्षी महिला कांस्टेबल के हाथों की अंगुलियां काटी और एक घर में जा छिपी, लेकिन पुलिस वहां भी पहुंच गई और महिला कॉन्स्टेबल की सहायता से घर से बाहर निकाल दोनों को हिरासत में ले लिया. पकड़ी गई दोनों महिलाओं ने पुलिस को पकड़कर रोने धोने का भी नाटक किया, लेकिन उनकी चाल कामयाब नहीं हो सकी.

 

यह भी पढ़े – हाई कोर्ट ने कहा: जानवरों को 24 घंटा मिले इलाज, इसकी समुचित व्यवस्था करे सरकार
राकेश यादव अकेले नहीं हैं पटना के थानों की बोली लगाने वाले, लिस्‍ट बहुत लंबी है
अब JP सेतु पर सेल्फी लेंगे तो धर लेगी पुलिस, CCTV कैमरे से होगी मॉनिटरिंग