आरा की खुशबू के साथ जो हुआ ऐसी हैवानियत की आप कल्पना भी नहीं कर सकते

आरा (पुष्कर पांडेय) : ससुराल वाले इतना गिर जाएंगे. यह खुशबू ने सोचा भी नहीं होगा. पहले तो ससुराल वालों ने एक दिन पूर्व घर में फोन कर खुशबू के भाई से कहा की तुम्हारी बहन की तबीयत खराब है. जब भाई ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि बहन से बात कराओ तो ससुराल वालों ने यह कहा कि वह बात नहीं करना चाहती. अभी भाई ओमप्रकाश ससुराल जाने के लिए तैयार ही हुआ था कि गांव वालों ने सूचना दी कि तुम्हारी बहन को मारने पीटने के बाद जला दिया गया. इतना ही नहीं निर्दयी ससुराल वालों ने एक बार में जब शव नहीं जला तो दूसरी बार फिर जल्दबाजी में केरोसिन तेल डालकर आग के हवाले कर दिया.

ऐसी बात सुनकर जब ओमप्रकाश अपने गांववालों के साथ खुशबू के ससुराल पहुंचा तो घर के लोग गायब थे. मायके वालों के सामने रोने-पीटने के अलावा कोई चारा नहीं बचा था. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गजराजगंज ओपी थाना क्षेत्र के मसाढ़ गांव निवासी निर्मल सिंह ने अपनी पुत्री खुशबू की शादी बड़े ही धूमधाम से जगदीशपुर थाना क्षेत्र के बीमा हरदिया गांव निवासी राजिंदर सिंह के पुत्र भीम सिंह के साथ की गई थी. शादी के समय समर्थ के अनुसार दान दहेज भी दिया था.

लेकिन बीती रात ना सिर्फ ससुराल वालों ने पीट-पीटकर अधमरा कर दिया बल्कि उस विवाहिता को भी जला दिया. जिसके पेट में मासूम पल रहा था जो अभी धरती पर भी नहीं आया था. घटना की जानकारी मिलते ही मायके वाले मसाले गांव से जब खुशबू के ससुराल जगदीशपुर थाना क्षेत्र के हरदिया गांव पहुंचे तो घर खुला मिला और परिजन गायब हो गये. तब ससुराल वालों ने इसकी सूचना पुलिस वालों को दी. अभी भी घर के लोग फरार बताये जा रहे हैं.

शादी में मोटरसाइकिल की हुई थी डिमांड

मायके वालों का कहना है कि दहेज में मोटरसाइकिल की मांग की गई थी. उस समय किसी तरह समझा बुझाकर मामला शांत कराया गया था. इसी बीच एक बार फिर ससुराल वालों ने मोटरसाइकिल की मांग की तो परिजनों ने समझाया बुझाया. भाई ओमप्रकाश का आरोप है कि मेरी बहन को मारने-पीटने के बाद गर्भ में पल रहे उसके बच्चे को साथ जला दिया गया.

क्या कहते हैं SHO जगदीशपुर

जगदीशपुर थाना के इंस्पेक्टर ने कहा कि सूचना मिलते ही पुलिस वहां गई थी. अभी तक परिजनों ने आवेदन नहीं दिया है. आवेदन मिलने के बाद जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें-
मणिपुर सीएम की अपहृत रिश्तेदार बिहार में मिली, हाई प्रोफाइल मामले की जांच में जुटी पुलिस
व्यवसायी हत्याकांडः डिप्टी मेयर के बेटे और हम के राष्ट्रीय प्रवक्ता हो सकते हैं गिरफ्तार