CT2017: भारत शानदार जीत के साथ फाइनल में, पाकिस्तान से होगा खिताबी मुकाबला

लाइव सिटीज डेस्क: भारत ने रोहित शर्मा के नाबाद 123 रन और कप्तान विराट कोहली के नाबाद 96 रन की बदौलत भारत नौ विकेट की बदौलत जीत दर्ज कर भारत ने आईसीसी चैंपियनशिप ट्राफी के फाइनल में प्रवेश किया. जहां इसका मुकाबला पहले सेमीफाइनल के विजेता पाकिस्तान से होगा. इससे पहले  बांग्लादेश नेचैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचने के लिए भारत को 265 रनों का लक्ष्य बांग्लादेश ने दिया था .  इस मैच में टॉस से पहले बारिश ने थोड़ी बाधा जरूर डाली, लेकिन बाद में भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी का फैसला किया है. पहले बल्लेबाज़ी करते हुए बांग्लादेश ने 50 ओवर में सात विकेट खोकर 264 रन बनाए.


बांग्लादेश के लिए ओपनिंग तमीम इकबाल और सौम्य सरकार ने की, जबकि गेंदबाजी में टीम इंडिया के स्विंग उस्ताद भुवनेश्वर कुमार ने पहला ओवर डाला, भुवी ने ओवर की अंतिम गेंद पर सरकार को बोल्ड करके बांगलादेश को बड़ा झटका दिया, उस समय स्कोर महज एक रन था. दूसरे ओवर में बुमराह को दो चौके पड़े और कुल 10 रन बने. तीसरे ओवर में भुवी की भी पिटाई हो गई. रहमान ने उनको दो चौके जड़े और 10 रन बटोरे, चौथे ओवर में बुमराह ने वापसी की और चार रन खर्च किए, पांचवें ओवर में भुवी ने एक चौके सहित पांच रन दिए. 5 ओवर में बांग्लादेश- 31/1. छठे ओवर में बुमराह ने लय हासिल कर ली और तमीम इकबाल को एक भी रन नहीं बनाने दिया, सातवें ओवर में भुवी ने टीम इंडिया को दूसरी सफलता दिला दी, उन्होंने शब्बीर रहमान (19) को रवींद्र जडेजा से कैच कराया.

आठवें ओवर में एक रन आया, नौवें ओवर में भुवी को रहीम ने लगातार तीन चौके जड़ दिए, ओवर में 13 रन बने, दसवां ओवर बुमराह ने किया, जिसमें एक रन बना. 10 ओवर में बांग्लादेश- 46/2. 11वें ओवर में भुवी ने वापसी की, उन्होंने रहीम और तमीम को महज एक रन ही लेने दिया, 12वें ओवर में गेंदबाजी में बदलाव हुआ और आक्रमण पर ऑफ स्पिनर आर अश्विन आए, उन्होंने दो रन दिए, 13वें ओवर में एक और परिवर्तन हुआ और विराट ने हार्दिक पांड्या को गेंद सौंपी. उन्होंने पांचवीं गेंद पर तमीम को बोल्ड कर दिया, लेकिन नोबॉल हो गई, ओवर में 13 रन बने.

14वें ओवर में अश्विन ने चार रन दिए, 15वें और 16वें ओवर में 13 रन बने, 17वें ओवर में तमीम ने पांड्या को छक्का जड़ दियाय़ कुल 10 रन बने, 18वें ओवर में छह रन आए। 19वें ओवर में तमीम ने रवींद्र जडेजा को चौका लगाकर फिफ्टी पूरी की. 20वें ओवर में एक रन बने. 21वें ओवर में पांच रन बने, 22वें ओवर में अश्विन को तमीम ने लगातार तीन चौके जड़ते हुए 13 रन ठोक दिए. 25वें और 26वें ओवर में 11 रन बने, 27वें ओवर में चार रन बने. 28वें ओवर में केदार जाधव ने तमीम इकबाल को 70 रन (82 गेंद, 7 चौके, 1 छक्का) पर बोल्ड कर दिया. 29वें और 30वें ओवर में कुल सात रन बने. 30 ओवर में बांग्लादेश- 161/3. 31वां ओवर रवींद्र जडेजा ने किया.

तमीम के आउट होने के बाद रनगति में गिरावट आई, इस ओवर में तीन रन बने. 32वें और 33वें ओवर में 11 रन बने, 34वें ओवर में जाधव ने दो रन दिए। 35वें ओवर में रवींद्र जडेजा ने इंडिया को चौथी सफलता दिलाई, उन्होंने शाकिब अल हसन (15) को धोनी से कैच कराया, 36वें ओवर में जाधव ने एक और विकेट हासिल कर लिया, उन्होंने दूसरे जमे हुए बल्लेबाज रहीम को 61 रन (85 गेंद) को कोहली से कैच कराया. 37वें और 38वें ओवर में कुल आठ रन बने, 39वें ओवर में हार्दिक पांड्या को एक बार फिर विकेट मिलते-मिलते रह गया, जब अश्विन ने महमुदुल्लाह को चार रन के निजी स्कोर पर कैच छोड़ते हुए जीवनदान दे दिया.

40वें ओवर में अश्विन की गेंदों पर नौ रन बने, जिसमें पांच रन पेनल्टी के रहे, क्योंकि धोनी का एक दस्ताना नीचे पड़ा हुआ था और थ्रो उस पर जाकर लग गया. इस मैच में पलड़ा भारत का ही भारी है, लेकिन बांग्लादेश की टीम उलटफेर में माहिर है. रिकॉर्ड के मामले में भारत इस मैच में जीत का प्रबल दावेदार है. क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है और ऐसे में बांग्लादेश को जीत का दावेदार नहीं मानना गलत होगा.

भारतीय टीम भी अपने इस पड़ोसी प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ किसी तरह की भी ढिलाई बरतने से बचना चाहेगी.