विश्व हाइपरटेंशन दिवस : विशेषज्ञ बोले – हाई ब्लड प्रेशर से हृदय रोग का खतरा

paras1

दरभंगा : विश्व हाइपरटेंशन दिवस पर हाई ब्लडप्रेशर के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए पारस ग्लोबल हॉस्पिटल, दरभंगा ने बुधवार को एक स्वास्थ्य चर्चा का आयोजन किया. कार्यक्रम में डॉक्टरों ने ब्लड प्रेशर के लक्षण, इलाज और बचाव के तरीकों पर विस्तार से प्रकाश डाला.

 

 

हृदय रोग विषेशज्ञ डॉ. ज्योति प्रकाश कर्ण और मेडिसीन के डॉ. अजय कुमार लाल दास ने कहा कि हाई ब्लड प्रेशर एक ऐसी बीमारी है, जिसका सीधा असर हृदय पर पड़ता है और इसमें मरीज हृदय रोग की विभिन्न समस्याओं से ग्रस्त हो जाते हैं. विषेशज्ञों ने कहा कि हाई ब्लड प्रेशर से बचने के लिए लोगों को हेल्दी लाइफ स्टाइल अपनाना होगा.

paras1

 

उन्होंने कहा कि दरभंगा में हाई ब्लड प्रेशर के काफी मरीज पाये जाते हैं और इस कारण वे हृदय रोग के भी शिकार होने लगते हैं. कई ऐसे लोग भी मिले हैं जिन्हें काफी समय से हाई ब्लड प्रेशर है लेकिन इसके लक्षण उन्हें मालूम नहीं पड़ते हैं और वह ब्लड वेसल्स को धीरे-धीरे खराब कर देता है.

इसके कारण हृदयाघात तथा स्ट्रोक की समस्या पैदा हो जाती है और तब जाकर पता चलता है कि यह सब हाई ब्लड प्रेशर के कारण हुआ है. विषेशज्ञों ने कहा कि दरभंगा के लोगों में हाई ब्लड प्रेशर बढ़ना एक गंभीर मसला बन गया है. इस बीमारी से बचने के लिए लोगों को अच्छा और स्वास्थकारी खान-पान, व्यायाम और सुबह-शाम टहलने की आदत डालनी चाहिए.

 

paras2

पारस हॉस्पिटल, दरभंगा के यूनिट हेड डॉ. आनन्द ने कहा कि हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी अब लोगों में आम होती जा रही है, इस विषय पर दरभंगा में स्वास्थ्य चर्चा आवश्यक है,

उन्होंने कहा कि हम इलाज के अलावा लोगों में बीमारियों से बचने के लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाते हैं और इसी कड़ी में हाई ब्लड प्रेशर पर चर्चा का आयोजन किया गया