भरतिया फैमिली में आईं खुशियां : अभ्‍युदय है IIT का बिहार समेत गुवाहाटी जोन टॉपर

abhuday-iit-topper1

पटना : पटना की जानी-पहचानी भरतिया फैमिली को आज बड़ी खुशी मिली है . भरतिया फैमिली के संजय भरतिया के बड़े पुत्र अभ्‍युदय भरतिया ने पहले ही प्रयास में IIT की प्रवेश परीक्षा में गुवाहाटी जोन में टॉप किया है . उसे देश भर में 104 वां स्‍थान प्राप्‍त हुआ है . अभ्‍युदय के पिता संजय भरतिया बिहार इंडस्‍ट्रीज एसोसिएशन के वाइस प्रेसीडेंट हैं .

अभ्‍युदय को घर के सदस्‍य प्‍यार से अभि पुकारते हैं . अभ्‍युदय को आज टॉपर होने की जानकारी मुंबई में मिली . गुवाहाटी जोन की परीक्षा का संचालन आईआईटी,गुवाहाटी के द्वारा किया जाता है . इस जोन में बिहार-झारखंड समेत नार्थ-ईस्‍ट के तमाम प्रदेश शामिल हैं . आईआईटी,गुवाहाटी के डीन ने अभ्‍युदय के टॉपर होने की जानकारी भविष्‍य की शुभकामनाओं के साथ दी .

abhuday-iit-topper1

अभ्‍युदय ने लाइव सिटीज से विशेष बातचीत में कहा कि उसे और बेहतर रिजल्‍ट की उम्‍मीद थी . उसे भरोसा था कि वह देश भर में अंडर-50 में रहेगा . अब लग रहा है कि कंपीटिशन ज्‍यादा टफ हो गया था . मेंस में वह देश भर में 72वें स्‍थान पर था . अभ्‍युदय ने पटना के दिल्‍ली पब्लिक स्‍कूल से 2015 में दसवीं की परीक्षा 10 सीजीपीए के साथ उत्‍तीर्ण की थी .

abhuday-iit-topper2

फिर वह तैयारी को कोटा चला गया,जहां वाइव्रेंट एकडमी से पढ़ाई की . आईआईटी की प्रवेश परीक्षा में वह पिता संजय भरतिया और मां नुपूर भरतिया की इच्‍छा से पटना से ही शामिल हुआ . अभ्‍युदय ने कहा कि आईआईटी का उसका टारगेट पहले से निर्धारित था . इसलिए कभी बहुत दबाव में नहीं रहा .

अभ्‍युदय ने कहा कि रोजाना 7-8 घंटे पढ़ा करता था . मूड ठीक नहीं रहा तो कभी दो-तीन दिनों तक बिलकुल नहीं पढ़ता था . लेकिन बाद में भरपाई कर लेता था . मम्‍मी-पापा का प्रेशर कभी नहीं रहा . आगे भी अव्‍वल रहूं ,कोशिश जारी रहेगी . उसने माना कि घर के बेहतर माहौल से बुनियाद अच्‍छी थी . सफलता तभी मिलती है,जब टारगेट तय हों और बेसिक कांसेप्‍ट क्लियर हो .

फिर आगे सब कुछ आसान होता चला जाता है . ­