कुख्यात दुर्गेश पर एक्शन में IG, अब CCA लगाने की तैयारी

DURGESH1

पटना : जोनल आईजी नैयर हसनैन खान एक्‍शन में हैं. क्राइम कंटोल एक्‍ट (CCA) के जरिए कुख्‍यात दुर्गेश शर्मा के उपर शिकंजा कसने की तैयारी में हैं. एसटीएफ के बाद अब पटना पुलिस ने कुख्‍यात दुर्गेश शर्मा के उपर अपना शिकंजा कसने के लिए कदम बढ़ा दिए हैं.

दरअसल, जैसे ही एसटीएफ के द्वारा दुर्गेश को अरेस्‍ट किए जाने की पुष्टि हुई. उसके बाद ही आईजी ने भी पटना पुलिस की टीम को एक्टिव होने का आदेश दे दिया. क्राइम कंटोल एक्‍ट यानी सीसीए लगाने के लिए आईजी की ओर से आदेश दिया गया है. अब जल्‍द ही पटना पुलिस दुर्गेश पर सीसीए लगाने का प्रस्‍ताव डीएम को भेजेगी. इसके बाद वहां से प्रस्‍ताव को स्‍टेट गवर्नमेंट के पास भेज दिया जाएगा.

DURGESH1

जब्‍त कराई जाएगी संपत्ति

क्राइम की दुनिया में आने के बाद आरा के रहने वाले इस कुख्‍यात ने पटना सहित कई दूसरे शहरों में करोड़ों रुपए की संपत्ति अर्जित कर रखी है. अब इस संपत्ति को जब्‍त करने की तैयारी भी शुरू कर दी गई है. जल्‍द ही प्रवर्तन निदेशालय (ED) को इसके लिए पटना पुलिस लिखने वाली है. हालांकि 2016 में भी पटना पुलिस ने दुर्गेश शर्मा की संपत्ति को जब्‍त करने के लिए बिहार की इकोनोमिक ऑफेंस यूनिट (EOU) को लिखा था. एसएसपी मनु महाराज के आदेश पर इस कुख्‍यात अपराधी के करोड़ों की संपत्तियों को आकलन भी कराया गया था.

जल्‍द से जल्‍द सजा दिलाने की होगी कोशिश

मोस्‍ट वांटेड व एक कुख्‍यात अपराधी होने के साथ ही दुर्गेश शर्मा काफी शातिर दिमाग का इंसान भी है. इसके पुराने करतूतों को ध्‍यान में रखते हुए पटना पुलिस इसे जल्‍द से जल्‍द सजा दिलाने की तैयारी में है. इसके आपराधिक मामलों की सुनवाई स्‍पीडी ट्रायल के तहत चलाने के लिए पटना पुलिस अपील भी करेगी.

नाम बदलकर करने वाला था सफर

दुर्गेश शर्मा शनिवार को अपनी फैमिली के साथ तिनसुकिया जाने के लिए निकला था. राजेन्‍द्र नगर-तिनसुकिया एक्‍सप्रेस के कोच नंबर 7 में उसक रिजर्वेशन था. लेकिन दुर्गेश शर्मा की जगह उसने अपना नाम बदल रखा था. एसटीएफ को इसके हर पल के मूवमेंट की खबर थी. ट्रेन के राजेन्‍द्र नगर से चलते ही एसटीएफ की टीम ने उसे अरेस्‍ट कर लिया. फिर बख्तियारपुर स्‍टेशन पर ट्रेन पर उसे और उसकी फैमिली को उतार लिया गया.

यह भी पढ़ें –

मोस्ट वांटेड दुर्गेश शर्मा को चलती ट्रेन में पकड़ा STF ने, बात-बात पर करा देता था खून

VVIP कैटेगरी से बाहर हुए लालू-राबड़ी, एयरपोर्ट पर जांच बिना No Entry

कौन है इस पोस्टर के पीछे, लिखा है- सुशील मोदी के इशारे पर चल रहे हैं नीतीश के प्रवक्ता