पटना में बुधवार से खुलेंगे स्कूल, कई जिलों में गुरुवार तक बंद

पटना : सूबे में बीते दिनों से हो रही भारी बारिश ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया है. भारी बारिश की वजह से घर तक से निकलना मुश्किल हो रहा है. सड़कों पर घुटने भर पानी लग जा रहा है. इन्हीं स्थितियों को देखते हुए कई जिलों के प्रशासन ने क्लास 8 तक के स्कूलों को मंगलवार तक बंद करने का निर्देश दिया था. कहा गया था कि मंगलवार को स्थिति की समीक्षा के बाद आगे का फैसला लिया जाएगा.

इस क्रम में मंगलवार को पटना के जिलाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल ने स्थिति की समीक्षा के बाद बुधवार से सभी सरकारी-निजी विद्यालयों को पूर्ववत खोलने का निर्देश दिया है. पटना में दो दिनों से जारी मूसलाधार बारिश ने यातायात व्यवस्था बिगाड़ कर रख दी है. सड़कों पर पानी का जमाव हो गया है. शहर के कई मुहल्ले टापू में तब्दील हो गए हैं. पानी में घुसे बगैर मुहल्लों में जाना और वहां से निकलना मुश्किल हो गया है.

हालांकि कई जिलों से अगले दो-तीन दिन विद्यालयों को बंद रखने संबंधी निर्देश दिए जाने की भी खबर आ रही है. मिल रही जानकारी के अनुसार सीतामढ़ी, मधुबनी और दरभंगा जिला प्रशासन ने गुरुवार, 13 जुलाई तक सभी प्राइमरी और मीडिल स्कूल बंद रखने का आदेश दिया है. प्रशासन ने इन जिलों में लगातार हो रही भारी बारिश को देखते हुए यह निर्णय लिया है. प्रशासन का यह निर्देश जिलों के सभी सरकारी और निजी विद्यालयों पर लागू होगा.

बता दें कि मौसम विभाग ने भी राज्य में अगले 48 घंटों में भारी बारिश की संभावना जताई है. आपदा प्रबंधन विभाग ने इसके मद्देनजर लोगों से सावधानी बरतने की भी अपील की है.

इससे पहले कई अन्य जिलों में भी जिला प्रशासन ने 8 वीं कक्षा तक के बच्चों के लिए स्कूल बंद रखने का आदेश दिया था. पटना के अलावा मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली और मधुबनी में भी भारी बारिश के मद्देनजर स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया गया था. वैशाली जिले में 11 और 12 जुलाई को स्कूल बंद रहे जबकि बाकी के जिलों में सिर्फ 11 जुलाई को स्कूल बंद रखने का फैसला किया गया था.

यह भी पढ़ें –
भारी बारिश का Effect : मंगलवार को बंद रहेंगे सूबे के अधिकतर सरकारी-निजी स्कूल
राजद का जदयू को साफ़ जवाब – तेजस्वी किसी कीमत पर नहीं देंगे इस्तीफा
जदयू ने राजद को दिया 4 दिनों का अल्टीमेटम – तेजस्वी पर करें फैसला