मनु महाराज के एक्शन से मचा बालू माफियाओं में हड़कंप, 59 अरेस्ट

पटना : बालू माफियाओं के खिलाफ एसएसपी मनु महाराज लगातार दूसरे दिन भी एक्शन में दिखे. सोमवार को बिहटा के लई में मनु महाराज और उनकी टीम ने फिर से एक बड़े आॅपरेशन को अंजाम दिया. दूसरे दिन के आॅपरेशन के दरम्यान हुई कार्रवाई ने तो बालू माफियाओं के होश ही उड़ा दिए. किसी ने पुलिस के इस एक्शन का अंदाजा भी नहीं लगाया होगा.

घंटों चली कार्रवाई के दौरान 59 लोगों को अरेस्ट किया गया. अवैध रूप से बालू की ढ़ुलाई में लगे 500 ट्रकों को जब्त किया गया. जबकि अवैध रूप से ही बालू को बेच कर कमाए गए 5 लाख 67 हजार रुपए को जब्त कर लिया गया. सुबह होते ही लई के पूरे इलाके में पुलिस ने घेरा बंदी कर दी.

एसएसपी मनु महाराज खुद अपनी टीम को लीड कर रहे थे. उनके साथ सिटी एसपी वेस्ट रविन्द्र कुमार, एएसपी आॅपरेशन राकेश दुबे और फुलवारी शरीफ के एएसपी राकेश कुमार के साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स मौजूद थी.

लाईसेंस मिला था स्टॉक का, पर लगे थे अवैध ढुलाई में

बिहटा इलाके में सोन नदी से बालू के खनन और उसे स्टॉक कर रखने का लाईसेंस ब्रॉडसन कंपनी को मिला था. लेकिन अवैध कमाई के चक्कर में पूरी कंपनी के लोग लग गए. खनन के बाद जिस बालू को स्टॉक कर रखने की जिम्मेवारी थी, उसी बालू को कंपनी के लोग अवैध रूप से बेच दे रहे थे. इस बात की कंप्लेन पहले भी माइनिंग डिपार्टमेंट को मिल चुकी थी. इस इंफॉरमेशन की गुप्त तरीके से जांच की गई, जो सही मिली.

दर्ज हुआ एफआईआर

अवैध रूप से बालू बेचने के मामले में ब्रॉडसन कंपनी के खिलाफ बिहटा थाने में एफआईआर दर्ज किया गया है. डिस्ट्रिक्ट माइनिंग आॅफिसर के बयान पर एफआईआर को दर्ज किया गया. कंपनी का कोई एक मालिक नहीं है. ये एक सिंडिकेट की तरह काम करती है. मालिकों में 12—14 लोग शाामिल हैं. सोर्स बताते हैं कि ये सभी बड़े बालू माफियाओं में से एक हैं. अब पुलिस सभी पर अपना शिकंजा कसेगी. इनकी गिरफ्तारी भी तय है.

यह भी पढ़ें –

भाई वीरेन्द्र का भतीजा सोनू पहले नंबर का बालू माफिया!

बालू माफियाओं पर मनु महाराज का एक्शन, राजद विधायक भाई वीरेंद्र का भी आ रहा नाम !