पैंट-शर्ट में निकले SP, गांजे की पुड़िया खरीदी, पैसे दिए और फिर अरेस्ट कर लिया

पूर्णिया : जिले के तेजतर्रार एसपी निशांत कुमार तिवारी भी मंगलवार को सिंघम की भूमिका में नजर आये. निशांत तिवारी आज बुलेट पर लाल हेलमेट लगाकर शहर में निकले और कई जगहों पर चेकिंग की. एसपी की इस चेकिंग में बीच शहर में गांजा बेचते 4 लोगों को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया.

दरअसल एसपी निशांत तिवारी को गुप्त सूचना मिली थी कि कुछ लोग शहर में चोरी छिपे गांजा की तस्करी कर रहे हैं. इस सूचना के आधार पर सिविल ड्रेस में अपने एक सिपाही को लेकर निशांत तिवारी शहर के बस स्टैंड पहुंच गए. वहां सबसे पहले उन्होंने ट्राइसाइकिल पर बैठकर गांजा बेच रहे एक दिव्यांग व्यक्ति से गांजा खरीदा. बदले में उसे पैसे भी दिये. और फिर तुरंत उसे गिरफ्तार भी कर लिया.

अवैध धंधे में लिप्त लोगों को धर दबोचने का सिलसिला यहीं नहीं थमा. एसपी साहब आगे बढ़े और फिर एक दुकान पर पहुंच गए जहां गांजा बेचने की गुप्त सूचना थी. वहां भी एसपी निशांत तिवारी ने गांजे की पुड़िया खरीदी. तभी सदर एसडीपीओ वहां पहुंचे. यह देखकर दुकानदार भागने लगा. एसपी और एसडीपीओ ने खदेड़कर गांजा तस्करों को रंगे हाथ दबोच लिया.

इस अभियान के बारे में एसपी निशांत तिवारी ने बताया कि गुप्त सूचना पर मंगलवार को 3 जगहों पर छापेमारी की गयी. इस कार्रवाई में 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि गांजा तस्करों के खिलाफ आगे भी इस तरह की कार्रवाई जारी रहेगी. पूर्णिया डीएम प्रदीप कुमार झा ने भी एसपी के इस कार्रवाई की प्रशंसा की है.

गौरतलब है कि जिला प्रशासन नशाबंदी के खिलाफ लगातार अभियान चला रहा है. इसी सिलसिले में पूर्णिया पुलिस को महत्वपूर्ण उपलब्धियां हाथ लगी है. उन्होंने लोगों से भी ऐसे धंधेबाजों को पकड़वाने में मदद करने की भी अपील की.

बता दें कि बिहार में पूर्ण नशाबंदी है. इसके बावजूद चोरी छिपे शराब और मादक पदार्थों का अवैध धंधा धड़ल्ले से जारी है. बहरहाल एसपी के इस कार्रवाई से धंधेबाजों के होश उड़े गए है.