रामाधार सिंह का बड़ा आरोप – सांसद ने मर्डर के लिए क्रिमिनल बुलाया है, AK-47 देंगे

पटना : औरंगाबाद में सुशील कुमार सिंह बनाम रामाधार सिंह की लड़ाई अब बहुत तीखी हो चली है . दोनों भाजपा में हैं . सुशील कुमार सिंह सांसद हैं, जबकि पूर्व मंत्री रामाधर सिंह औरंगाबाद से 2015 का बिहार विधान सभा चुनाव हार गये थे . लाइव सिटीज से बातचीत में रामाधार सिंह ने आज 27 अक्‍तूबर को अपने सांसद सुशील कुमार सिंह पर बहुत गंभीर आरोप लगाये . कहा – मेरी हत्‍या के लिए धनबाद से अपराधी को बुलाया गया है . औरंगाबाद में बुलाये गये अपराधी को देने के लिए एके-47 का सांसद ने बंदोबस्‍त कर रखा है . ऐसे में, मेरी हत्‍या कभी भी हो सकती है .

रामाधार सिंह ने कहा कि मैं भाजपा में संगठन का आदमी हूं,जबकि सुशील सिंह गिरोह के आदमी हैं . चुनाव में जीत-हार लगी रहती है . सुशील सिंह की राजनीति पहले कई दफे औरंगाबाद में हमसे हारी है . उन्‍होंने कहा कि सांसद द्वारा तैयार किए गए मर्डर प्‍लान की पूरी जानकारी वे मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्‍य मंत्री सुशील कुमार मोदी को मिलकर देंगे . जरुरी जांच की मांग करेंगे .

सांसद सुशील कुमार सिंह

पूर्व मंत्री ने कहा कि सुशील कुमार सिंह को मेरे द्वारा किये गये कार्य नहीं सुहाते हैं . उन्‍हें अच्‍छा नहीं लगा कि देव के छठ मेला में शामिल होने को आये मंत्री रामनारायण मंडल और ब्रजकिशोर बिंद ने मेरे कार्यों को सराहा . साथ में,यह भी कहा कि देव मेला के लिए आवंटित राशि 10 लाख से बढ़ाकर 35 लाख कर दी गई है . देव के छठ मेला को राजकीय मेला घोषित किया जाता है . साथ में, छठव्रतियों के रहने के लिए 5 करोड़ की लागत से धर्मशाला भी बनेगा . रामाधार सिंह ने कहा कि देव मेला समारोह में सुशील कुमार सिंह ने बिना मतलब अपनी नाराजगी जाहिर की . जब मेरे संबोधन का वक्‍त आया,तो सुशील कुमार सिंह और कांग्रेस विधायक आनंद शंकर चले गये . मैंने भी भाषण नहीं दिया .

धनबाद से चला है मारने को अपराधी

रामाधार सिंह कहते हैं कि वे समारोह से जैसे ही निकले,धनबाद से फोन आया . कहा गया कि होशियार रहिएगा . सांसद सुशील कुमार सिंह ने सेटिंग कर दी है . धनबाद में रहने वाले साला के बेटे ने मर्डर का ठेका लेने वाले को रवाना कर दिया है . बकौल पूर्व मंत्री,जानकारी के मुताबिक अपराधी का नाम हरषू है,जो पहले भी कई हत्‍याएं कर चुका है . वे यह भी बताते हैं कि धनबाद के इस अपराधी को देने के लिए सांसद ने एके-47 की व्‍यवस्‍था की है . यह हथियार पिछले माह पटना पुलिस द्वारा औरंगाबाद के क्‍लब रोड से गिरफ्तार किये गये अपराधी के गिरोह से खरीदा गया है .

पूर्व मंत्री कहते हैं कि औरंगाबाद में सांसद के सिंह कोठी पर रेड पड़े,तो वहां बड़ी संख्‍या में लाइसेंसी और गैर लाइसेंसी हथियार मिलेंगे . मेरी जान खतरे में हैं,हिफाजत की जिम्‍मेवारी जनता पर है . कारण कि हमने कभी लाइसेंसी हथियार लिया ही नहीं,क्‍योंकि चलाना आता नहीं है . इस पूरे मामले में सांसद सुशील कुमार सिंह से संपर्क का प्रयास किया गया,लेकिन उनका फोन पहुंच से दूर बताता रहा .