PU के स्टूडेंट बोले – बड़ी हसरत थी कि हम भी सेंट्रल यूनिवर्सिटी में पढ़ते, लेकिन…

लाइव सिटिज डेस्क(राज विमल):  पटना का सबसे व्यस्त रोड अशोक राजपथ आज शनिवार को बिल्कुल खाली था, पुलिस ने गांधी मैदान से लेकर गांधी चौक तक सील कर दिया था, लोग सड़कों के किनारे खड़े हो किसी का इंतज़ार कर रहे थे… वो थे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी…

मौका था देश के सातवें सबसे पुराने विश्वविद्यालय पटना यूनिवर्सिटी के शताब्दी वर्ष समारोह का. जिसके मुख्य अतिथि थे खुद देश के प्रधानमंत्री. विश्वविद्यालय पूरी तरह सज कर तैयार था, बिल्कुल दुल्हन की तरह… छात्र और विद्यार्थी बड़े खुश नजर आ रहे थे. सभी को उम्मीद थी प्रधानमंत्री जब आयेंगे तो पटना विश्वविद्यालय के दिन सुधरेंगे, इसे सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दर्जा देंगे.

वैसे तो समारोह में केवल पीजी के छात्रों को ही प्रवेश की अनुमति थी, लेकिन कई और छात्र भी उन्हें टीवी पर सुन रहे थे. प्रधानमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा – पटना विश्वविद्यालय ने इस देश को कई आईएएस, आईपीएस, मंत्री दिए है. सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दर्जा तो अब पुराने दिनों की बात हो गई, मैं विश्वविद्यालय को उससे आगे देना चाहता हूं…. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार देश के 20 विश्वविद्यालय को 5 सालों में 10 हजार करोड़ देंगे.

लेकिन छात्र उनके इस आश्वासन से खुश नहीं दिख रहे है. लाइव सिटिज से बात करते हुए छात्रों ने कहा- प्रधानमंत्री ने बड़े ही सफाई से मुख्यमंत्री की प्रार्थना को टाल दिया.

पटना कॉलेज के छात्र हृषिकेश शर्मा कहते है कि प्रधानमंत्री ने तमाम मीडिया रिपोर्ट्स को टच करते हुए बड़े ही सुनियोजित ढंग से यहाँ के छात्रों को छला है. सभी छात्रों के लिये आज बड़ा दिन था, छात्रों को उम्मीद थी कि आज के बाद हम भी एक केंद्रीय विश्वविद्यालय के छात्र होंगे. लेकिन पीएम ने हमें निराश किया.

बीएन कॉलेज के छात्र शुभम सिन्हा कह रहे है कि प्रधनामंत्री से बड़ी उम्मीदें थी कि देश के पुराने यूनिवर्सिटी में से एक इस यूनिवर्सिटी को उनके आने के बाद एक संजीवनी मिलेगी. लेकिन उनका ये दौरा केवल राजनीतिक दौरा बन कर रह गया.

मगध महिला कॉलेज की छात्रा निशा कहती है कि पटना यूनिवर्सिटी का छात्र होना अपने आप में गौरव कि बात है. प्रधानमंत्री का आश्वासन तो संतोषजनक नहीं था, लेकिन मैं उम्मीद करती हूं कि उनके पैकेज वाले फैसले से विश्वविद्यालय का भला हो सके.

दरभंगा हाउस के पत्रकारिता पीजी के छात्र शोभित सुमन जो कि उस समरोह में उपस्थित थे, का कहना है कि प्रधानमंत्री के समारोह में शामिल होने के बाद हमें बड़ी उम्मीद थी कि पीएम के आने के बाद विश्वविद्यालय की खत्म होते अस्तित्व को एक नई जान मिलेगी, लेकिन अब हम निराश हैं.

ऐसे ही कितने ही विद्यार्थियों की उम्मीदें टूटी. सभी को यह उम्मीद थी कि इस विश्वविद्यालय को नई जान मिलेगी, लेकिन पीएम अपने इस दौरे को राजनीतिक दौरा बना कर, मोकामा की तरफ चल दिए और छात्र मायूसी से उन्हें देखते रह गये…..

लालू का कड़ा तंज : नरेंद्र मोदी तब पूरा करने की बात करते हैं, जब सत्ता में रहेंगे ही नहीं 
नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में शत्रुघ्न सिन्हा को नहीं आया बुलावा, चेहरे पर छलका दर्द 
गंगा से लेकर दीवाली-छठ तक पर बोले नरेंद्र मोदी, विकास की भी कहीं बातें 
कब तक रहेंगे किराये में : कीमतें बढ़ने के पहले खरीदें 9 लाख का फ्लैट, ऑफर में Gold Coin भी
iPhone 8 पटना को सबसे पहले गिफ्ट करेगा चांद बिहारी ज्वैलर्स, सोने के सिक्के तो फ्री हैं ही
धनतेरस में करें रॉयल जूलरी की शॉपिंग, कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स
धनतेरस पर बेस्ट आॅफर दे रहे हैं हीरा-पन्ना ज्वैलर्स, Turkish जूलरी के साथ Gold Coin भी फ्री
स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry
अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)