नहीं जमा किए ड्रेस के पैसे, स्कूल शिक्षक ने छात्रा को निर्वस्त्र कर भगाया

बेगूसराय(बिनोद कर्ण) : भारत में शिक्षा का उद्देश्य किसी जमाने में हुआ करता था, ‘विद्या ददाति विनयं, या विद्या सा मुक्तये’. लेकिन शिक्षा के कारोबार में पैसे की बढ़ती चाह ने न सिर्फ शिक्षा को कलंकित किया है, बल्कि शिक्षक और शिष्य के पावन रिश्ते को भी पतन की कगार तक ढकेल दिया है. कुछ ऐसा ही वाकया शुक्रवार को बेगूसराय के राजापुर सिकरहुला गांव में हुआ. जहां निजी स्कूल प्रबंधन ने स्कूल ड्रेस का रुपया समय से जमा न करने पर मासूम छात्राओं को पीटा. पीटने के बाद मासूम को निर्वस्त्र करके स्कूल से बाहर भी निकाल दिया. मासूम के ​परिजनों ने इस संबंध में पुलिस में मामला दर्ज करवाया है.

बताया गया कि मामला सदर प्रखंड अंतर्गत कोरिया पंचायत का है. जहां बीआर एजुकेशन एकेडमी, कोरिया के नाम से विद्यालय संचालित किया जाता है. विद्यालय में भवानंदपुर पंचायत के राजापुर सिकरहुला गांव निवासी एक शख्स की दो पुत्रियों के साथ अभद्र व्यवहार किया गया. पीड़ित छात्रा के पिता ने बताया कि विद्यालय प्रबंधन ने बिना किसी पूर्व सूचना के छात्राओं को ड्रेस दी थी. बाद में परिजनों पर ड्रेस का पैसा लाने का दबाव बनाया गया.

परिजनों द्वारा असमर्थता जताने पर भी विद्यालय प्रबंधन ने किसी प्रकार की राहत उन्हें नहीं दी. विद्यालय प्रबंधन ने पहले पुत्री की ड्रेस खुलवाकर मारपीट की फिर स्कूल से बाहर निकाल दिया. बच्चियों की इस दुर्दशा पर जब परिजन स्कूल प्रबंधन से बात करने के लिए गए तो उनके साथ भी अभद्र व्यवहार किया गया. जब बात बढ़ी तो हाथापाई भी की गई. परिजन घटना की शिकायत लेकर पंचायत के मुखिया के पास गए. जहां मुखिया जी ने छात्रा को गमछा पहनाया.

मुखिया ने विद्यालय प्रबंधन से बात की तो उनके साथ भी अभद्रता की गई. इसके बाद मुखिया ने पीड़ित को घटना की शिकायत पुलिस में करने की सलाह दी. पीड़ित ​अभिभावकों ने इस बाबत घटना की सूचना मुफस्सिल थाने में दी है. थानाध्यक्ष संजय झा ने बताया कि आवेदन पर कार्रवाई की जा रही है. वहीं घटना के बाद से स्कूल प्रबंधन सकते में है. स्कूल के प्रिंसिपल मुकेश कुमार का कहना है कि उनके ऊपर लगाए गए आरोप निराधार हैं. पब्लिक सपोर्ट के लिए छात्रा के अविभावक ने खुद बच्चे को अर्धनग्न कर विवाद खड़ा करने का हथकंडा अपनाया है.

यह भी देखें:-
बैंक अकाउंट खोलने के लिए आधार अनिवार्य, 50000 रूपये से ऊपर ट्रांजैक्शन के लिए भी
चारा घोटालाः CBI की स्पेशल कोर्ट में हाजिर हुए लालू, जमानत बरकरार