भारी बारिश का Effect : मंगलवार को बंद रहेंगे सूबे के अधिकतर सरकारी-निजी स्कूल

पटना: मानसून की शुरूआती बारिश ने ही पटना एवं बिहार के दूसरे कई शहरों को जल प्लावित शहर में तब्दील कर दिया और पूरी व्यवस्था की दशा बिगाड़कर रख दी है. स्कूली बच्चों को इससे होने वाली असुविधा को ध्यान में रखते हुए पटना सहित बिहार के कई जिलों में जिलाधिकारी ने स्कूल को बंद रखने आदेश दिया है. यह आदेश सरकारी और गैर सरकारी दोनों ही स्कूलों पर प्रभावी होगा.


पटना में दो दिनों से जारी मूसलाधार बारिश ने यातायाता व्यवस्था बिगाड़ कर रख दी है. सड़कों पर पानी का जमाव हो गया है. शहर के कई मुहल्ले टापू में तब्दील हो गए हैं. पानी में घुसे बगैर मुहल्लों में जाना और वहां से निकलना मुश्किल हो गया है. स्कूली बच्चों को इससे होने वाली परेशानियों को ध्यान में रखकर पटना के जिलाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल ने आपदा प्रबंध विभाग के एलर्ट को ध्यान में रखते हुए क्लास आठ तक की सभी कक्षा को कल यानी 11 जुलाई तक स्थगित करने का आदेश दिया है.

कई अन्य जिलों में भी जिला प्रशासन ने 8 वीं कक्षा तक के बच्चों के लिए स्कूल बंद रखने का आदेश दिया है. पटना के अलावा मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली और मधुबनी में भी भारी बारिश के मद्देनजर स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया गया है. वैशाली जिले में 11 और 12 जुलाई को स्कूल बंद रहेंगे जबकि बाकी के जिलों में सिर्फ 11 जुलाई को स्कूल बंद रखने का फैसला किया गया है.

स्कूल बंद रखने की तारीख आगे बढायी जाएगी या नहीं यह निर्णय मंगलवार को ​स्थिति की समीक्षा के उपरांत लिया जायेगा. यदि बारिश आगे भी इसी तरह जारी रही तो स्कूल बंद रखने की तारीख आगे भी जारी रखी जा सकती है. यह आदेश सभी निजी एवं सरकारी स्कूलों पर लागू होगा. प्रशासन की ओर से अनुमंडल पदाधिकारी एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी को आदेश का अनुपालन कराने का निर्देश दिया गया है.

यह भी पढ़ें –
नीतीश को समर्थन देने को तैयार है बीजेपी : नित्यानंद राय
राज्य सरकार जवाब दे – 550 करोड़ खर्च करने के बावजूद लाभ क्यों नहीं?
शरद यादव ने किया लालू का बचाव, तो उन्हें 2008 की याद दिलाने लगे सुमो