सीनियर एडवोकेट बसंत चौधरी पुलिस कस्टडी में, खबर वायरल

basant1

पटना :  पटना पुलिस ने पटना हाई कोर्ट के सीनियर एडवोकेट बसंत कुमार चौधरी को पुलिस कस्टडी में ले लिया है. उनके साथ और कई लोग हिरासत में लिए गए हैं. कार्रवाई पटना के फ्रेजर रोड स्थित यूथ हॉस्टल में की गयी है. पुलिस कस्टडी की कार्रवाई के बाद आवश्यक जांच-पड़ताल में लगी है. उधर बसंत चौधरी को हिरासत में लिए जाने की खबर वकील सर्किल में वायरल हो रही है.

पटना पुलिस ने कस्टडी में लिया, इसकी खबर सबसे पहले देश-दुनिया को स्वयं बसंत कुमार चौधरी ने ही दिया है. इस बाबत उन्होंने अपने फेसबुक वाल पर स्टेटस लिखा है. साथ में फोटो और वीडियो भी अपलोड की है. यह स्टेटस शाम को 6:30 बजे के आसपास पब्लिश किया गया था. लगातार लिखे गए दो पोस्ट में बसंत कुमार चौधरी ने कहा है – ‘हमलोगों को पटना पुलिस ने सांप्रदायिक और जातीय हिंसा पर बैठक करने के लिए यूथ हॉस्टल, फ्रेजर रोड, पटना में गिरफ्तार कर लिया गया है, गेट बंद कर दिया गया है. ये फासीवाद नहीं है?’

basant2

दूसरे पोस्ट में चौधरी ने वीडियो अपलोड किया. इस वीडियो में विभिन्न सम्प्रदाय के काफी लोग दिख रहे हैं. सभी यूथ हॉस्टल के ग्राउंड में खड़े हैं. हॉस्टल के भीतर बड़ी संख्या में पुलिसवाले भी दिखाई पड़ रहे हैं. पटना पुलिस ने अभी बस इतना कहा है कि कुछ इंटेलिजेंस की सूचनाएं थी, जिसके आधार पर कार्रवाई की गयी है. आगे पूरे मामले की पड़ताल की जा रही है. यह पता किया जा रहा है कि बैठक का मकसद क्या था और वहां जुटे लोगों का परिचय क्या है.

basant1

बताते चलें कि बसंत चौधरी को पटना हाई कोर्ट का काफी लड़ाका वकील माना जाता है. क्रिमिनल मामलों के वे ख्यात लॉयर हैं. सुप्रीम कोर्ट जाकर भी मुक़दमे लड़ते हैं. माओवादियों का कई मुकदमा भी बसंत चौधरी ने लड़ा है. उनके संबंधी अजित कुमार शर्मा भागलपुर से कांग्रेस के विधायक हैं.

इसे भी पढ़ें –
जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल समाप्त, रात 12 बजे से लौटेंगे काम पर