आफत की आंधी : बिहार में 7 मरे, आपदा प्रबंधन करेगा क्षति का आंकलन

लाइव सिटीज डेस्क : राजधानी में आंधी-तूफ़ान के बीच हुई भारी बारिश से जहां मौसम सुहाना हुआ वही कई आफत भी साथ आई. इस आंधी में जान-माल की भारी क्षति हुई है. बिहार के कई जिलों से आंधी की चपेट में आने से लोगों के मरने की खबर आई है. बता दें कि मौसम विभाग ने कल ही अलर्ट जारी कर कहा था कि आंधी और तेज बारिश आने की संभावना है. नतीजा अहले सुबह तूफानी बारिश ने जहां गर्मी से राहत दिलाने का काम किया वहीं लोगों को भारी नुकसान भी कर गया.   

  इन जिलों से आई मौत की खबर

आंधी तूफ़ान की चपेट में आने से मंगलवार की सुबह कई लोग अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठे. जानकरी के अनुसार मधेपुरा के सिंहेश्वर मे एक लोगों की मौत हो गई है. मधुबनी के बेनीपट्टी से भी एक व्यक्ति के हताहत होने की खबर है. राजधानी पटना के मनेर में भी तूफ़ान ने एक लोगों की जिंदगी छीन ली. 

लखीसराय के सूर्यगढा में भी आंधी और भारी बारिश ने एक लोगों को अपना शिकार बनाया. पूर्णिया के रुपौली क्षेत्र में जहां एक लोग इसकी चपेट में आ गए वहीँ औरंगाबाद में भी दो लोगों की जान इसमें चली गई. इस घटना के बाद मौसम विभाग ने फिर से चेतावनी जारी करते हुए कहा कि 10 मई को एक बार फिर से इसी तरह की तूफानी बारिश हो सकती है.

 बह गया पीपा पुल

सुबह तेज आँधी के कारण पीपा पुल का दूसरा लेंन बनना था उसका 25 सेट बह कर खाजेक्लां घाट पर बह कर के आ गया.  वहीं स्थानीय लोगों ने पीपा पुल पर चढ़ने लगे. पीपा पुल के कर्मचारी के द्वारा लगातार कहने के बावजूद पीपा पुल से लोग उतर नहीँ रहे थे. बाद में जब पुलिस की टीम पहुँची तो लोग जल्दी-जल्दी पीपा पुल से उतरे स्थानीय लोगों ने बताया कि सुबह के क़रीब 5:40 मिनट पर जोड़ से टकराने की आवाज़ आई. जब उन्होने आकर देखा तो पीपा पुल का हिस्सा खुल कर बह चुका था. बाद में उन्होने इसकी सूचना पुलिस को दी पुलिस मौके पर पहुँच कर के गाय घाट में पीपा पुल के कार्यालय को सूचना भेजी.

पीपा पुल को खाजेक्लां घाट से लें जाने की तैयारी की जा रही थी.  सभी हिस्सों को बाँधने के बाद उसे नाव के द्वारा खींच कर खाजेक्लां से गाय घाट ले जाया गया. वही पीपा पुल का हिस्सा खाजेक्लां घाट के नीचे बँधे बोल्डर में फँस गया जिसे निकालने में काफ़ी दिक्कत हुई.

वहीं कई इलाके में मार्ग भी अस्त-व्यस्त हो गया. नतीजा यातायात में काफी लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ा.

 पटना में बड़ी पटनदेवी कॉलोनी में भी तूफान से आफत

पटना के बड़ी पटनदेवी कॉलोनी में तूफानी हवा ने कहर बरपा दिया. एक घर की छत पर दीवार जा गिरी. जिसकी चपेट में एक 50 वर्षीय महिला भी आ गई. इस घटना में उक्त महिला की कमर और पैर की हड्डी टूट गई.  वहीं विद्यापति मार्ग में विशाल पेड़ गिरने से यातयात बाधित हो गई. वहीँ बेली रोड में भी पेड़ गिरने से मार्ग अवरुद्ध हो गया.

आज शाम होगा तूफ़ान से क्षति का आकलन

भारी बारिश के बाद हुई क्षति का आंकलन करने के लिए आपदा प्रबंधन विभाग आज शाम बैठक भी करेगा. इस बैठक में सीएम नीतीश भी शामिल हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें-  तूफानी बारिश से आफत : पीपा पुल बहा, पटना-गया रेल परिचालन ठप