निगरानी की एक और कार्रवाई, मनरेगा PO को रिश्वत लेते दबोचा

पटना : निगरानी की टीम ने गया जिले में छापेमारी करते हुये मनरेगा पीओ मनोज कुमार को गिरफ्तार किया है. मनोज कुमार को 25 हजार रूपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है. निगरानी डीजी रविन्द्र कुमार के निर्देश पर भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत यह कार्रवाई की गयी है.

मिल रही जानकारी के अनुसार श्रीपुर गांव निवासी पंकज कुमार ने निगरानी विभाग में शिकायत दर्ज कराई थी जिसके आलोक में यह कार्रवाई की गयी है. दर्ज कराई गयी शिकायत में कहा गया था कि लंबित विपत्र का भुगतान करने के लिए मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी मनोज कुमार 25 हजार रूपये रिश्वत की मांग कर रहें हैं. जांच में आरोप सत्य पाए जाने के बाद डीएसपी गोपाल पासवान के नेतृत्व में टीम गठित किया गया.

बुधवार को गठित निगरानी टीम ने मनरेगा कार्यालय में छापेमारी करते हुये आरोपी पीओ मनोज कुमार को 25 हजार रूपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. फिलहाल गिरफ्तार मनोज कुमार से निगरानी टीम पूछताछ करने में जुटी है.

इधर निगरानी डीजी रविन्द्र कुमार ने कहा कि भ्रष्टाचार पर सरकार की नीति जीरो टॉलरेंस की है. उसको लेकर भ्रष्टाचार के खिलाफ पूरे सूबे में अभियान चलाया जा रहा है. वहीं लोगों को जागरूक किया जा रहा हैं कि सरकारी योजना में लाभ पाना आपका हक है. किसी को रिश्वत न दें और मांगता है तो निगरानी में शिकायत दर्ज कराएं. उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में भ्रष्टाचारियों को बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने बताया कि इस वर्ष में अभी तक 42 लोगों को रंगे हाथ रिश्वत के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

यह भी पढ़ें –
पटना में पहली बार 1.5 व 2.5 BHK का फ्लैट, निर्माण तेजी में, कीमत 9 लाख से स्‍टार्ट
20 हजार के चक्कर में फंस गए मनरेगा के अधिकारी, निगरानी ने किया गिरफ्तार
बदले गए 95 सीओ और 33 DCLR, देखें नोटिफिकेशन