एग्जिट पोल के बाद एनडीए खेमे में चिंतन-मंथन शुरू, पर्दे के पीछे होगा गुणा-भाग!

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में तीनों चरणों का चुनाव खत्म हो चुका है. 10 तारीख को वोटों की गिनती की जाएगी. लेकिन उससे पहले एग्जिट पोल ने एनडीए खेमे को सोचने पर मजबूर कर दिया है. जिस प्रकार से कल सभी ऐजेंसियों ने अपना एग्जिट पोल दिखाया है, उसमें महागठबंधन की सरकार यानी तेजस्वी यादव सीएम बनते दिखाई दे रहे हैं.

वहीं इन एग्जिट पोल के आने के बाद से एनडीए की चिंता बढ़ गई है. एनडीए के बड़े नेता अब सियासी समीकरण सेट करने में जुट गए हैं. नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री किस प्रकार बनाया जाए, उसके लिए गुणा-भाग भी जारी है. एग्जिट पोल की संभावनाओं को देखें तो बिहार में तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री बनते दिख रहे हैं. लेकिन अगर टक्कर बराबर पर रही तो जोड़-तोड़ की संभावना भी पूरी रहेगी.



जिस तरह बिहार में चुनावी माहौल रहा है और रैलियां हुई है, उससे एनडीए ने इसे महज चुनौतीपूर्ण ही लिया था. लेकिन टक्कर इस बार काटें की रही. इसलिए शायद अपनी आखिरी सभा में नीतीश कुमार को ये कहा पड़ा कि ये उनका आखिरी चुनाव है. हालांकि राजनीतिक पंडितों का साफ-साफ कहना है कि बिहार में महागठबंधन की सरकार बननी तय है और आरजेडी राज्य में लारजेस्ट पार्टी के रूप में उभर रही है.