लॉकडाउन की घोषणा होते ही बाजारों में उमड़ी भारी भीड़, राजधानी पटना के प्रमुख बाजारों के दुकानों पर खरीदारों की लग गई लाइन

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: राज्य सरकार बिहार में पांच से लेकर 15 मई तक लॉकडाउन की घोषणा कर चुकी है। इस घोषणा के बाद ही गया में लोग खरीदारी करने के लिए निकल पड़े। किसी ने बाजारों से घर का राशन खरीदा तो किसी ने फल और सब्जी। ना सिर्फ राजधानी पटना बल्कि अन्य शहरों में भी बड़ी संख्या में बाजार में लोग जरूरी सामान खरीदने उमड़े। इस दौरान भागदौड़ की स्थिति में लोग शारीरिक दूरी के नियमों को भूल गए।सोशल डिस्टेंसिंग की भी खूब धज्जियां उड़ी।

पटना के प्रमुख बाजारों जैसे खेतान मार्केट, न्यू मार्केट, राजा बाजार मार्केट की दुकानों पर खरीदारों की लंबी लाइन लग गई। राजधानी पटना के प्रमुख बाजारों के दुकानों पर खरीदारों की लाइन लग गई। इस दौरान कुछ दुकानों पर तो ग्राहकों और दुकानदारों के बीच नोक-झोंक भी हो गई। हालांकि लॉकडाउन की घोषणा के बाद जिला प्रशासन की ओर से बाजारों में पुलिस की गश्त देखने को मिली। कई पुलिसकर्मी लोगों को कोरोना गाइडलाइन के बारे में समझाते हुए भी दिखे।

मालूम हो कि लॉकडाउन की अवधि में भी आवश्‍यक सेवाओं को छूट दी गई है। पेट्रोल पंप, एलपीजी के अलावा सब्‍जी, फल, मांस-मछली, दूध आदि की दुकानें सात से 11 बजे दिन तक खुली रहेगी। हालांकि स्‍कूल-कॉलेज कोचिंग संस्‍थान बंद रहेंगे। धार्मिक स्‍थल पूर्व की तरह ही बंद रहेंगे। हालांंकि रेस्‍टॉरेंट से होम डिलेवरी की सुविधा 12 घंटे उपलब्‍ध रहेगी। सुबह नौ बजे से रात नौ बजे तक लोग रेस्‍टॉरेंट से खाने-पीने का सामान मंगवा सकेंगे।