बिहार विधानसभा सत्र: सीएम नीतीश से मुलाकात करेंगे तेजस्वी यादव, जातीय जनगणना पर करेंगे बात

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: जातीय जनगणना के मसले पर नेता प्रतिपक्ष से तेजस्वी यादव पीछे हटने को तैयार नहीं है. तेजस्वी यादव ने अब इस मामले पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात करने का ऐलान किया है. तेजस्वी यादव ने कहा कि आज मैनें बिहार विधानसभा में कार्यस्थगन प्रस्ताव लाने का काम किया है.  लेकिन कार्य स्थगन अस्वीकृत कर दिया गया. सबलोग जानते है कि जातीय जनगणना को लेकर हमलोग की मांग रही है इसपर विधानसभा में दो बार सर्वसहमति से पास किया गया है. कुत्ता, बिल्ली, जानवरों से लेकर हर धर्म की लोगों की गिनती होती है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि सीएम नीतीश NDA का हिस्सेदार हैं. वे कहते है बिहार में जातीय जनगणना होना चाहिए. केंद्र सरकार ने मना कर दिया है, जातीय गिनती नहीं कराई जाएगी. इस मामले में सदन में प्रस्ताव लाने से रोका जा रहा है. यह इसलिए रोका जा रहा है कि सीएम नीतीश के लिए दुविधा ना बन जाए. केंद्र सरकार में बीजेपी की सरकार है. वे मना कर दी है. अगर बिहार विधानसभा इसे दो बार पारित कर दिया है तो हमलोग इसे अंतिम मंजिल तक पहुंचाए.

जातीय जनगणना के मसले पर तेजस्वी यादव आज विपक्षी दलों के नेताओं के साथ एक बैठक करने वाले हैं. बैठक के बाद तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मुलाकात करेंगे. तेजस्वी लगातार यह मांग रखते आ रहे हैं कि जातीय जनगणना के मसले पर राज्य सरकार केंद्र के सामने अपनी बात रखें. विधानसभा की एक कमेटी के जरिए केंद्र से आग्रह किया जाए और अगर इसके बावजूद भी केंद्र सरकार तैयार नहीं होती है तो बिहार सरकार अपने खर्च पर जातीय जनगणना कराये.