पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के बाद आज मतगणना जारी, मणिपुर और उत्तर प्रदेश में जेडीयू के लिए अच्छी खबर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के बाद आज मतगणना जारी है. और शुरुआती रुझानों से जनता दल यूनाइटेड के लिए भी अच्छी खबर निकल कर आ रही है. अपने दम पर मणिपुर और उत्तर प्रदेश के चुनावी मैदान में उतरे जनता दल यूनाइटेड को रुझानों में बढ़त मिलती नजर आ रही है. उत्तर प्रदेश की 1 विधानसभा सीट पर जेडीयू को शुरुआती बढ़त मिली है. पूर्व सांसद धनंजय सिंह को जेडीयू ने जौनपुर की मल्हनी सीट से उम्मीदवार बनाया था और उन्हें रुझान में 2500 की बढ़त फिलहाल मिली है.

मालानी सीट पर जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह समेत बिहार के कई मंत्रियों ने भी प्रचार किया था. जेडीयू ने इस सीट पर जीत के लिए पूरी ताकत झोंकी थी. वीआईपी के अध्यक्ष और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी भी इस सीट पर जेडीयू उम्मीदवार के लिए चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे. और अब धनंजय सिंह ने शुरुआती बढ़त बना ली है.

मणिपुर में 3 विधानसभा सीटों पर जेडीयू ने शुरुआती बढ़त बनाई है. यहां कांग्रेस को भी फिलहाल 5 विधानसभा सीटों पर बढ़त है मणिपुर में बीजेपी सरकार की वापसी होती नजर आ रही है. बीजेपी ने यहां 25 विधानसभा सीटों पर बढ़त बनाकर रखी हुई है. मणिपुर विधानसभा के लिए कुल 60 सीटें हैं. यहां 25 सीटों पर अन्य को बढ़त हासिल है. इसमें जेडीयू की सीटें भी शामिल है. जेडीयू ने मणिपुर में जिन विधानसभा सीटों पर रुझानों में बढ़त बनाकर रखा हुआ है उनमें Bishenpur, Hiyanglam, Thangmeiband, Thangmeiband, Tipaimukh शामिल है.

बता दें कि चुनाव आयोग से राष्ट्रीय पार्टी के रूप में मान्यता प्राप्त करने के लिए तीन शर्तों में से एक के अनुसार एक पंजीकृत पार्टी को चार लोकसभा सीटों को जीतने के अलावा, किसी भी चार या अधिक राज्यों में कम से कम 6% वोटों की आवश्यकता होती है. पिछले विधानसभा चुनावों में जेडीयू ने पहले ही बिहार और अरुणाचल प्रदेश में 6% से अधिक वोट हासिल कर लिया है और बिहार से लोकसभा में उसके 16 सदस्य हैं. अगर पार्टी अगले कुछ सालों में मणिपुर और एक और राज्य में 6% वोट हासिल करने में सफल हो जाती है, तो वह ‘राष्ट्रीय पार्टी’ के रूप में मान्यता पाने के योग्य होगी.