Bihar Crime : करोड़ों की हेराफेरी करने वाले इंजीनियर की नहीं चली चालाकी, भागलपुर में पुलिस ने दबोचा

लाइव सिटीज, भागलपुर : करोड़ों की हेराफेरी करने वाले इंजीनियर हेमंत झा की चालाकी नहीं चली. सारी होशियारी धरी की धरी रह गई. उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. कल तक वह दूसरों को डराता था, आज वह खुद पुलिस से डर रहा था. कैमरे को देखते ही चेहरा झांप लिया. मामला भागलपुर का है. उस पर दो करोड़ रुपये हेराफेरी करने का आरोप है. उसे तेलंगना पुलिस ने गिरफ्तार किया है. उसकी गिरफ्तारी इशाकचक थाना क्षेत्र से हुई है. इंजीनियर के साथ मिलीभगत करने वाले दिल्ली के एक शख्स को भी पुलिस ढूंढ रही है.

बताया जाता है कि लॉकडाउन संकट के दौरान शातिर इंजीनियर हेमंत झा दिल्ली में ही बैठकर ऐप से लोगों को कर्ज देता था और उस राशि पर 35 परसेंट ब्याज वसूलता था, वह भी अपनी मर्जी से. पैसे नहीं देने वाले लोगों को काफी प्रताड़ित करता था. बताया जाता है कि कुछ लोगों ने सुसाइड कर लिया था. ऐसा ही एक मामला तेलंगना के साइबराबाद में सामने आया था. इस संबंध में तेलंगना के केआर रेड्डी नगर स्थित फुमल्ला पोचमपल्ली निवासी एम संतोष कुमार ने साइबराबाद थाने में अपने साले गुज्जी चंद्रमोहन के सुसाइड को लेकर प्राथमिकी दर्ज कराई थी.



तेलंगना पुलिस को जांच में पता चला कि हेमंत झा भागलपुर का रहने वाला है. तब तेलंगना पुलिस उसकी तलाश में भागलपुर पहुंची थी. हेमंत का घर इशाकचक थाने के सब्जी मंडी में है. पुलिस ने उसे अपने घर से ही गिरफ्तार किया है. गिरफ्तारी के समय उसका लैपटॉप और मोबाइल भी पुलिस ने जब्त किया है. तेलंगाना पुलिस का नेतृत्व इंस्पेक्टर एस रमेश कर रहे थे. आज उसे कोर्ट में पेश किया गया. तेलंगाना पुलिस उसे ट्रांजिट रिमांड पर लेने की अपील की है.