मीसा के बाद अब शैलेश और तेजस्वी भी IT के रडार पर…

लाइव सिटीज डेस्क: बेनामी संपत्ति मामले में आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के परिवार पर आयकर विभाग ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. सोमवार को समाचार एजेंसी ANI ने ट्वीट किया कि लालू की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की कुछ संपत्तियों को आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति के अंतर्गत अटैच किया है. अटैच की गईं संपत्तियों में मीसा के पति शैलेश कुमार की प्रॉपर्टी भी शामिल है.

बता दें कि अटैच्ड संपत्ति को न बेचा जा सकता है ना ही किराए पर दिया जा सकता है. बताया जा रहा है कि मीसा, तेजस्वी और शैलेश पर यह कार्रवाई ‘वित्तीय अनियमितताओं’ के आरोपों को लेकर की गई है. गौरतलब है कि बेनामी संपत्ति मामले में फंसी मीसा भारती समन जारी किए जाने के बावजूद दो बार आयकर विभाग के सामने हाजिर नहीं हुईं थीं.

आयकर विभाग ने दो बार मीसा भारती और उनके पति शैलेश के खिलाफ समन जारी किया था. अब मीसा, तेजस्वी और शैलेश को यह साबित करना होगा कि उनकी अटैच की गईं संपत्तियां वैध तरीके से खरीदी गईं हैं. आयकर विभाग ने मीसा को 6 जून और 12 जून को पेश होने का आदेश दिया था लेकिन मीसा दोनों ही बार पेश नहीं हुईं थीं. लालू प्रसाद और उनके परिवार की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं.

इससे पहले लालू के बेटे और मंत्री तेज प्रताप यादव के पेट्रोल पंप का लाइसेंस भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने रद्द कर दिया था. हालांकि बाद में एक स्थानीय अदालत ने इस फैसले पर स्टे दे दिया था. तेज प्रताप को गलत तरीके से लाइसेंस लेने के आरोपों के बाद नोटिस जारी किया गया था.

यह भी पढ़ें :-
Income Tax ने लालू परिवार पर कसा शिकंजा, मीसा की संपत्ति जब्त
BPCL ने रद्द किया तेजप्रताप के पेट्रोल पंप का लाइसेंस, तेजस्वी बोले- एकतरफा एक्शन हुआ है