तेजस्वी की दो टूक – महागठबंधन पहले से एक था, है और एक रहेगा

नई दिल्ली : आज बुधवार को नई दिल्ली पहुंचे बिहार के डिप्टी चीफमिनिस्टर तेजस्वी यादव ने साफ़ लफ्जों में कहा है कि बिहार में महागठबंधन चलता रहेगा. उन्होंने कहा कि हमें बिहार की जनता का जनादेश इसलिए ही मिला है. राजद और जदयू के बीच जारी हालिया तनातनी के बाद पहली बार मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने के बाद तेजस्वी आज देश की राजधानी पहुंचे हैं. बताया यह जा रहा है कि तेजस्वी सरकारी काम से दिल्ली आये हैं. वो यहां गुरुवार को केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाक़ात करेंगे.

आज दिल्ली में उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा – महागठबंधन पहले से एक था, है और आगे भी एक रहेगा. उन्होंने कहा कि बिहार की जनता ने हमें जो मैंडेट दिया है, उसका हर हाल में सम्मान किया जाएगा. गठबंधन में दरार संबंधी सवालों पर तेजस्वी ने कहा कि हमें नहीं पता, क्यों कुछ लोग साजिश के तहत हमारे बीच कन्फ्यूजन बढ़ाने में लगे हैं.

दिल्ली आये तेजस्वी के बारे में माना यह भी जा रहा है कि यहां वो अपने ऊपर लगे सीबीआई के आरोपों पर वकीलों से सलाह लेंगे. इससे पहले उन्होंने आज न्यूज़ चैनल से बात करते हुए कहा इस्तीफे के सवाल पर कहा कि मेरी पार्टी ने मुझे विधायक दल का नेता चुना है. पार्टी जैसा कहेगी वैसा करूंगा. तेजस्वी ने कहा – इस मसले पर जनता को सफाई देंगे. मैं लोगों के बीच जाऊंगा और सारी बात बताऊंगा.

मंगलवार को पटना में कैबिनेट मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बातचीत के मुद्दे पर तेजस्वी ने बताया कि यह सामान्‍य मुलाकात थी इस संबंध में जैसी बातें मीडिया में कही जा रही हैं वैसा कुछ नहीं है.

गौरतलब है कि रेलवे की होटल लीज़ मामले में सीबीआई के छापे और एफआईआर के बाद तेजस्वी यादव पहली बार मंगलवार को नीतीश कुमार से मिले. माना जा रहा है कि बंद कमरे में 45 मिनट तक चली इस बैठक में तेजस्वी ने अपने ऊपर लगे आरोपों पर मुख्यमंत्री के सामने अपना पक्ष रखा. बैठक में क्या निर्णय लिया गया, इसकी अभी कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की गई है.

यह भी पढ़ें –

‘मुन्ना शुक्ला और सूरजभान से सपोर्ट ले चुके नीतीश छवि की बात न करें’

लालू-शिवानंद में लंबी चली बात, कहा- अब महागठबंधन की गाड़ी पटरी पर है

CBI रेड पर अब बनेगी आगे की रणनीति, तेजस्वी यादव चले दिल्ली