नियोजित शिक्षकों को बिहार का बोझ कहा शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने

ashok-chaudhry

पटना : ETV  बिहार के एक ट्वीट से हंगामा खड़ा होना तय है. यह ट्वीट संडे 11 जून की शाम को किया गया है. ट्वीट में बिहार के शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी का हवाला है. ट्वीट कह रहा है कि मंत्री मानते हैं कि बिहार के स्‍कूलों में काम करने वाले नियोजित शिक्षक सूबे के लिए बोझ बन गये हैं. इन शिक्षकों की संख्‍या लाखों में है. बहाली भी नीतीश कुमार के मुख्‍य मंत्रित्‍वकाल में ही हुई है. प्रक्रिया आज भी चल रही है.



ट्वीट के मुताबिक मंत्री कह रहे हैं कि ये नियोजित शिक्षक बिहार के शिक्षा तंत्र पर भारी पड़ रहे हैं. दरअसल, सरकारी स्‍कूलों की शिक्षा व्‍यवस्‍था की पोल बिहार बोर्ड के 12 वीं के नतीजों से खुली है. कोई साढ़े पांच लाख छात्र फेल कर गये हैं. आर्ट्स और साइंस में फेल करने वाले छात्रों की संख्‍या पास करने वाले छात्रों की संख्‍या से अधिक है. बड़ी संख्‍या में ऐसे स्‍कूल भी हैं, जिनमें से कोई भी छात्र परीक्षा में पास नहीं हुआ है.

ashok-chaudhry

20 जून को मैट्रिक का रिजल्‍ट आना है. संकेत कह रहे हैं कि यह रिजल्‍ट भी बहुत अच्‍छा नहीं आने वाला है. 2017 की परीक्षा में कदाचार पर सरकार ने रोक लगाई थी. कदाचार रोके जाने का परिणाम रहा कि बिहार की शिक्षा-व्‍यवस्‍था की असलियत खुल गई. मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार भी कह चुके हैं कि हम चुप बैठे नहीं रह सकते. खराब नतीजे ने भविष्‍य की चुनौती पेश की है और वे चुनौती को अवसर के रुप में बदल देना जानते हैं.

नियोजित शिक्षकों की गुणवत्‍ता को लेकर बहस शुरु से छिड़ी रही है. सर्टिफिकेट पर हुई बहाली का परिणाम सरकार को अब समझ में आ रहा है. दूसरी ओर नियोजित शिक्षकों का अलग रोना है. वे कहते रहे हैं कि स्‍थायी वाले शिक्षकों ने काम करना ही छोड़ दिया है. उन्‍हें गुलाम की तरह समझा जाता है. काम वे करते हैं, पर वेतन भिखारी की तरह मिलता है. इसका भी समय निश्चित नहीं है.

अब ईटीवी के ट्वीट के माध्‍यम से जब शिक्षा मंत्री का नियोजित शिक्षकों को लेकर यह बड़ा बयान सामने आया है, तो विवाद का आगे बढ़ना भी तय माना जाना चाहिए. तुरंत आंदोलन की राह पकड़ने का रिकार्ड भी रहा है नियोजित शिक्षकों का.

यह भी पढ़ें –
उद्घाटन के बहाने लालू-नीतीश बता गये – स्ट्रांग है महागठबंधन का ‘पुल’
लालू बोले – अभी तो मैं जवान हूं, नीतीश ने जोड़ा – छात्र जीवन वाला जोश बरकरार है
Birthday Special : 69 के लालू… नहीं होते तो क्या होता !
सोये लालू प्रसाद को जगाया बच्चों ने,बोले- Happy Birthday, फिर कटा केक