‘खौआ-पकौआ लालू ने अपने बच्चों को भी लूट-चोरी-दबंगई सिखा दी’

ashwini

पटना : बक्सर के भाजपा सांसद अश्विनीं कुमार चौबे कुछ न कुछ बोलकर मीडिया में बने रहते हैं. आज सोमवार 3 जुलाई को फिर से चौबे ने एक ट्वीट कर नए विवाद को जन्म दे दिया है. भाजपा सांसद ने जिस लहजे में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर हमला बोला है, जाहिर तौर पर लालू भक्त उन पर टूट पड़ेंगे.

अश्विनी चौबे ने अपने ट्वीट में कहा है कि एक शब्द है खौआ-पकौआ. लालू बिलकुल इसी प्रजाति के हैं. अपने साथ बाल-बच्चे को भी लूट, चोरी, दबंगई सिखा दिए. नीतीश कुमार ये बात कब समझेंगे. चौबे ने यह ट्वीट दोपहर में किया था. लालू समर्थकों का जवाब आना अभी शेष है. इसके पहले चौबे के ट्वीट पर उनके समर्थकों ने वाहवाही शुरू कर दी है. चौबे के ट्वीट पर गौतम शौर्य इसे सत्य वचन कह रहे हैं, तो रवि भूषण बोल रहे हैं – सही कहा बाबा ने. डॉ. शेष कुमार झा लिखते हैं – नीतीश कुमार चक्रव्यूह में अपने अहंकार के कारण फंस गए. उन्हें समझ नहीं आ रहा, निकलें तो कैसे. राजेश कुमार सिंह ने टिप्पणी की – क्या बात है.

ashwini

चौबे का यह ट्वीट नीतीश कुमार से सवाल पूछ रहा है. दो दिनों पहले अश्विनी चौबे ने और भी बहुत कुछ कहा था. तब के दिन यह शोर बहुत तेज था कि बिहार में लालू-नीतीश का महागठबंधन डेंजर जोन में है और कभी भी टूट सकता है. नीतीश कुमार के बार-बार इनकार के बाद भी उनके NDA के साथ जाने की बात हो रही थी.

पत्रकार की Viral पोस्ट पर मुजफ्फरपुर एसएसपी ने कहा – दोषियों पर सख्त कार्रवाई होगी

तब अश्विनी चौबे बोल रहे थे कि किसी भी कीमत पर भाजपा को फिर से नीतीश कुमार के साथ नहीं जाना चाहिए. याद रखना चाहिए कि नीतीश कुमार ने नरेंद्र मोदी के नाम पर डिनर पार्टी कैंसिल कर दी थी. अब नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं. फिर ऐसी कोई जरुरत नहीं है कि नीतीश के साथ चलें. सो, कोई डील किसी भी सूरत में नीतीश कुमार के साथ नहीं की जानी चाहिए.

यह भी पढ़ें –
CEC से मिले सुशील मोदी, कहा – रद करें तेज प्रताप की सदस्यता
CM के कार्यक्रम में गेम खेलना पड़ा महंगा, मनु महाराज समेत 5 अधिकारियों को नोटिस
एसआई सुसाइड केस में पत्नी का गंभीर आरोप – मुजफ्फरपुर SSP ने मांगे थे 10 लाख