अब लालू के खिलाफ सुशील मोदी ने खोला नया मोर्चा, पढ़ें

पटना (नियाज़ आलम): बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने अब विधायक आवास आवंटन में धांधली का आरोप लगाते हुए राजद और पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने कहा है कि एमएलए हाउसिंग को-आपरेटिव पर राजद के लोगों ने सालों से कब्जा बना रखा हैं ताकि आवंटन में जो बड़े पैमाने पर धांधली हुई है उस पर पर्दा डाला जा सके.



उनका कहना है की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को-आपरेटिव की समिति को तत्काल भंग कर प्रशासक नियुक्त करें और आवंटन से संबंधित तमाम दस्तावेजों को सार्वजनिक करें. को-आपरेटिव के वर्तमान अध्यक्ष को अब तक के तमाम आवंटियों की सूची जारी करनी चाहिए और बताना चाहिए कि पटना में मकान रहते कितने लोगों को प्लॉट दिया गया, कितने को एक से अधिक प्लॉट दिया गया तथा किन-किन लोगों ने नियमों का उल्लंघन कर आवंटित प्लॉट का आवासीय के बजाय व्यावसायिक इस्तेमाल किया है.

मोदी ने कहा कि 663 सदस्यों वाली को-आपरेटिव की 2015 की मतदाता सूची में मेरा नाम 384वें क्रमांक पर है मगर आज तक मुझे और अन्य सैकड़ों सदस्यों को कभी किसी बैठक या चुनाव की सूचना नहीं दी गई. दूसरी ओर मुट्ठी भर अपने चहेतों को बुला कर मनमाने तरीके से चुनाव करा लिया गया.

उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद के चहेते जयप्रकाश नारायण यादव जोड़तोड़ कर वर्षों से इस को-आपरेटिव के अध्यक्ष पद पर काबिज हैं, तो हाल में विधायक बने और लालू प्रसाद के वर्षों तक निजी सचिव व उनके तमाम जमीन घोटालों के गवाह रहे भोला यादव को इसका सचिव बना दिया गया है.

भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि यह सब मनमाने तरीके से सहकारी अधिनियम की धज्जियां उड़ाते हुए राजद से जुड़े सदस्यों को प्लॉट आवंटित करने व पूर्व की धांधली पर पर्दा डालने के लिए किया गया है.

इसे भी पढ़ें –
मीसा भारती और उनके पति को IT का नोटिस, जून में होगी पूछताछ
ट्विटर वार में बैकफुट पर सुमो, बोले – शत्रु कोई भी हो सकता है
सुमो ने कहा, लालू परिवार में हिम्मत है तो घोषित करें कि बेनामी सम्पति इनकी नहीं है