‘लालू का गोला नीतीश के घर तक भी नहीं जाता , भाजपा का पाक तक जा रहा है’

sushil.collage.jpg

पटना (नियाज आलम):  बेनामी संपत्ति को लेकर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और उनके परिवार के खिलाफ मोर्चा खोले भाजपा नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने लगातार 24वें दिन भी अपना हमला जारी रखा है. सनिवार सुबह राजद प्रमुख के ‘बोफोर्स तोप’ वाले हमले का जवाब देते हुए कहा कि लालूजी के बोफ़ोर्स तोप का गोला फुस कर गया है. लालू के घर से नीतीश के घर तक भी नहीं जाता. भाजपा का गोला पाक तक जा रहा है. इससे पहले उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्व मंत्री रघुनाथ झा के बाद कांति सिंह ने भी लालू प्रसाद के दोनों मंत्री बेटों तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव को राजधानी पटना में मकान सहित जमीन गिफ्ट दिया.

शनिवार को पटना में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में सुशील मोदी ने कहा कि लालू मई 2004 को UPA-1 में रेल मंत्री बने. मात्र सात माह के बाद श्रीमती कांति सिंह ने तेज प्रताप और तेजस्वी को पटना शहर की कीमती जमीन तीन मंजिला मकान सहित मुफ्त में गिफ्ट कर दिया. श्रीमती कांति सिंह ने 6 जनवरी 2005 को चितकोहड़ा में 9.39 डिसमिल जमीन तीन मंजिला मकान सहित बिना पैसे का दे दिया.

sushil.collage.jpg

उन्होंने कथित तौर दस्तावेजों के हवाले से कहा कि निबंधन दस्तावेज में मुफ्त जमीन देने के बारे में लिखा गया है कि ‘दान प्राप्त करने वाले दानकर्ता से लम्बे समय से काफी नजदीकी हैं. वे दानकर्ता के पुत्र के समान लम्बे समय से हैं. वे निष्ठापूर्वक दानकर्ता की सेवा करते रहें हैं और अपने लड़कों के समान खड़े रहते हैं. उनकी इस विश्वासपूर्वक सेवा से खुश होकर दानकर्ता यह दान कर रहा है.’

मोदी ने कहा कि जिस समय में गिफ्ट दिया गया उस समय तेज प्रताप और तेजस्वी 15-16 वर्ष के रहें होंगे. 15-16 वर्ष की आयु में तेज प्रताप और तेजस्वी ने कांति सिंह की क्या निष्ठापूर्वक सेवा की, ये उनको बताना चाहिए. उन्होंने तंज करते हुए कहा कि तेज प्रताप तो बांसुरी और तेजस्वी क्रिकेट खेल रहे थे तो फिर उन्होंने कांति सिंह की कौन सी सेवा की? क्या कांति सिंह यह कहना चाह रही हैं कि उनके लड़के ऋषि नालायक हैं, उन्होंने सेवा नहीं की बल्कि राबड़ी जी के लड़कों ने सेवा की?

भाजपा नेता ने राजद प्रमुख से सवाल किया कि प्रेम चन्द्र गुप्ता, रघुनाथ झा, कांति सिंह आखिर एक के बाद एक क्यों लालू जी के बच्चों को गिफ्ट कर रहे थे ? इसका एक ही उत्तर है कि टिकट पाने और मंत्री बनने के लिए. उपरोक्त लोगों को ये बताना चाहिए कि और किन-किन संस्थाओं, लोगों को इन लोगों ने गिफ्ट किया है ? इसके साथ ही मोदी ने कहा कि ये 24 वां दिन है, लगता है कि 30 दिन तक लगातार एक ही विषय पर बोलने का रिकार्ड स्थापित हो जाएगा.

बता दें कि इसे पहले मोदी ने कांति सिंह के दानापुर सगुना स्थित 95 डिस्मल जमीन राबड़ी देवी को 99 साल की लीज पर देने का मामला उठाया था. हालांकि इसके जवाब में कांति सिंह ने अपनी दलील भी दी है कि यह जमीन पैसों की तंगी के कारण उन्होंने बेची थी. रघुनाथ झा के बेटे अजीत झा ने कहा है कि उनकी जमीन थी, उन्होंने गिफ्ट की तो किसी और को क्यों परेशानी हो रही है.

यह भी पढ़ें :

‘मोदी बताएं, पत्थर तोड़नेवाली भगवतिया देवी को सांसद बनाने में लालू को क्या मिला?’

शिवानंद तिवारी का सुमो पर हमला – किसी ने जमीन दी, इसमें उनके बाप का क्या..

बोले लालू- अब सुशील मोदी पर बोफोर्स टैंक से हमला होगा