ट्विटर वार में बैकफुट पर सुमो, बोले – शत्रु कोई भी हो सकता है

sushil-modi_0
डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी (फाइल फोटो)

पटना (नियाज़ आलम) : बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी और पटना साहिब सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के बीच सोमवार से शुरु हुए ट्वीटर वॉर में  नया मोड़ आ गया है. शत्रु के पलटवार और भाजपा सांसद भोला सिंह, कीर्ति आज़ाद और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के हमले के बाद सुशील मोदी बैकफुट पर आ गए हैं. भाजपा के शत्रु को घर से बाहर निकलने के अपने बयान की उन्होंने नई परिभाषा बताई है.

मंगलवार को अपने जनता दरबार के बाद मीडिया से बात करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि उन्होंने ट्वीट में किसी का नाम नहीं लिया बल्कि भाजपा का शत्रु लिखा है. उन्होंने कहा कि शत्रु कोई भी हो सकता है. इसके साथ ही उन्होंने अपने ट्वीट पर शत्रुघ्न सिन्हा के जवाबी पलटवार पर कहा कि चोर की दाढ़ी में तिनका होता है.

sushil-modi_0
फाइल फोटो

बता दें कि भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने सोमवार को ट्वीट कर कहा था कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर अनर्गल बयानबाजी नहीं होनी चाहिए. अगर उनके खिलाफ सबूत हैं तो सामने लाएं. मीडिया में सुर्ख़ियों के लिए ऐसे सनसनीखेज बयान न दें. स्पष्ट था कि उनका इशारा अपनी ही पार्टी के नेताओं, खासकर सुशील मोदी की ओर था.

सिन्हा के इस बयान के बाद तुरंत ही सुशील मोदी भी एक्शन में आ गए. उन्होंने भी ट्वीट कर शत्रुघ्न सिन्हा का बिना नाम लिए उन्हें ‘गद्दार’ बताते हुए पार्टी से बाहर करने की मांग की थी.उन्होंने यह भी कहा कि जिस लालू के बचाव में नीतीश कुमार तक नहीं उतरे, उनके बचाव में अपने ही ‘शत्रु’ उतर गए हैं. इसके बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने कई ट्वीट किये जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से सुशील मोदी पर कार्रवाई की मांग की थी.

इसे भी पढ़ें –

बिहारी बाबू शत्रुघ्न बोले – बिहार में मोदी ने डुबोया है भाजपा को

शत्रुघ्न को मिला भोला सिंह का साथ, पूछा – निकालने की बात करने वाले सुशील मोदी कौन?

लालू के बचाव में आगे आये शत्रुघ्‍न सिन्‍हा, सुमो बोले – गद्दारों को घर से निकालो