भाजपा नहीं, लालू ने तेजस्वी को फंसाया – सुशील मोदी

sushil-modi-12
फाइल फोटो

पटना : वरिष्ठ भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को भाजपा ने नहीं, बल्कि लालू प्रसाद ने अपने भ्रष्टाचार में साझीदार बना कर फंसा दिया है. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ने कम से कम इतना तो स्वीकार कर लिया है कि उनके पिता लालू प्रसाद द्वारा 2004 में घोटाला किया गया था. मंत्री बन जाने से तेजस्वी यादव को मंत्री बनने से पहले के भ्रष्टाचार की माफी नहीं मिल जाती है.

सुशील मोदी ने कहा कि हकीकत है कि अगर लालू प्रसाद ने रेलमंत्री के नाते रेलवे के दो होटल के बदले डिलाइट मार्केटिंग के माध्यम से पटना में 3 एकड़ जमीन नहीं ली होती तो तेजस्वी यादव नहीं फंसते. अगर 26 वर्ष के तेजस्वी यादव को लालू प्रसाद अपने करीबी प्रेमचन्द गुप्ता की कम्पनी का साझीदार नहीं बनाया होता, सुरसंड के राजद विधायक अबु दोजाना से सांठगांठ कर अगर तेजस्वी की जमीन पर नियम-कानून की अवहेलना कर 750 करोड़ के मॉल का निर्माण नहीं शुरू कराया होता, मॉल की मिट्टी को पटना जू में नहीं खपाया होता और तेजस्वी के नाम पर दिल्ली के पॉश न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में 115 करोड़ की परिसम्पति नहीं बनाया होता तो तेजस्वी यादव नहीं फंसते.

sushil-modi-12
फाइल फोटो

मोदी ने कहा कि तेजस्वी यादव को प्रतिष्ठा का प्रश्न नहीं बना कर जब तक निर्दोष प्रमाणित नहीं हो जाते हैं तब तक के लिए इस्तीफा दे देना चाहिए. जदयू के अल्टीमेटम के 72 घंटे बाद भी राजद और तेजस्वी इस्तीफा नहीं देने पर अड़े हुए हैं, ऐसे में चार घंटे में जीतन राम मांझी से इस्तीफा लेने वाले मुख्यमंत्री को और इंतजार करने के बजाय उन्हें अपने मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर देना चाहिए.

यह भी पढ़ें –
Exclusive : नीतीश को भाजपा के साथ नहीं जाने देंगे लालू, तेजस्वी संग सभी मंत्री देंगे इस्तीफा!
जदयू के तेवर तल्ख, कहा- तेजस्वी की सफाई से संतुष्ट नहीं, फैसला हो कर रहेगा
मीडिया से मारपीट : तेजस्वी ने कल मांगी थी माफी, आज वीडियो से दिया जवाब