VVIP कैटेगरी से बाहर हुए लालू-राबड़ी, एयरपोर्ट पर जांच बिना No Entry

लाइव सिटीज डेस्क : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मुसीबतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. पहले उनके परिवार के ऊपर सीबीआई, आईटी और ईडी ने कार्रवाई की. इसके बाद रांची कोर्ट ने भी उन्हें हर पेशी पर सशरीर उपस्थित रहने का आदेश दे दिया है. इस आदेश से राहत के लिए की गई उनकी अपील को भी कोर्ट ने ठुकरा दिया है. उनके लिए नई मुसीबत की खबर दिल्ली से आई है. केन्द्रीय नागरिक उड्डयन विभाग ने लालू प्रसाद और राबड़ी देवी के पटना एयरपोर्ट के टर्मिनल में​ बिना जांच के प्रवेश करने के विशेषाधिकार को स्थगित कर दिया है.

समाचार एजेंसी ANI के ट्वीट के मुताबिक,’ केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने लालू प्रसाद और राबड़ी देवी के पटना एयरपोर्ट के ​टर्मिनल में बिना जांच के प्रवेश करने के विशेषाधिकार पर रोक लगा है.’ विशेषाधिकार पर रोक लगाने का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है. लेकिन एक बात इस ट्वीट से साफ हो जाती है कि लालू प्रसाद और राबड़ी देवी का वीवीआईपी का जलवा केन्द्र सरकार ने खत्म कर दिया है. बेनामी संपत्ति मामले में नाम आने के बाद से ही देश की लगभग हर बड़ी जांच एजेंसी उनके पीछे है.

 

बता दें कि लालू प्रसाद और राबड़ी देवी के बड़े बेटे और स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप के पेट्रोल पंप के लाइसेंस को भी पेट्रोलियम मंत्रालय ने अनियमितताओं के आरोप में रद कर दिया था. जबकि छोटे बेटे डिप्टी सीएम तेजस्वी प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई ने बेनामी संपत्ति रखने का आरोप लगाकर FIR दर्ज कर रखी है. विपक्ष लगातार तेजस्वी यादव के इस्तीफे या ​बर्खास्तगी और सरकार में सहयोगी जदयू लगातार उनसे सफाई की मांग कर रहा है. इस नई आफत से यह तो साफ है कि विपक्ष के हमले लालू फैमिली पर अब और तेज होंगे.

यह भी पढें-

महागठबंधन के पेंच सुलझाने की कवायद, दिल्ली में राहुल गांधी से मिलने पहुंचे सीएम नीतीश