जदयू का निर्णय – नीतीश कुमार सभी फैसलों के लिए हुए अधिकृत

लाइव सिटीज डेस्क : महागठबंधन में चल रही उथल—पुथल के बीच जदयू विधायक दल की बैठक कर रही है. इसी बैठक में महागठबंधन के भविष्य का फैसला होने का अनुमान है. सीएम नीतीश कुमार को हर फैसले के लिए अधिकृत किया गया है. मिल रही जानकारी के अनुसार बैठक के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह साफ़ कर दिया है कि सरकार अपना काम करेगी और कानून अपना काम करेगा. इस बात का भी कई राजनीतिक पण्डित अलग—अलग मायने निकाल रहे है.

जदयू के कार्यालय में चल रही विधायक दल की बैठक में नीतीश कुमार ने महागठबंधन के रहने या टूटने पर कयास लगाने वालों को भी साफ संदेश दे दिया है. नीतीश ने साफ कहा है कि सरकार अपना काम करती रहेगी.

गौरतलब है कि लालू प्रसाद के परिवार पर बेनामी संपत्ति रखने का आरोप लगाकर सीबीआई ने उनके ठिकानों पर छापेमारी की थी. इस छापेमारी के बाद ईडी ने भी मीसा भारती और उनके पति शैलेश से कई घंटे पूछताछ की थी. इस पूरे प्रकरण में डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव भी आरोपी बनाए गए हैं. इस पूरे प्रकरण के बाद पूर्व उप—मुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने तेजस्वी यादव के इस्तीफे या फिर बर्खास्तगी की मांग की थी. एक दिन पहले सोमवार को राजद ने भी विधायक दल की बैठक बुलाई थी, जिसमें यह साफ कर दिया गया था कि तेजस्वी इस्तीफा नहीं देंगे.

जदयू की बैठक ख़त्म होने के बाद शाम 4:30 बजे पार्टी प्रवक्ता प्रेस कांफ्रेंस करेंगे. इसमें ही यह पूरी जानकारी निकल कर सामने आ पाएगी कि बैठक में क्या-क्या हुआ. हालांकि यह सामान्य तौर पर बताया जा रहा है कि बैठक में केवल संगठन विस्तार पर चर्चा हुई है. हालांकि सबको इंतजार तेजस्वी यादव पर जदयू द्वारा अपना रुख स्पष्ट किये जाने पर टिका है.

यह भी पढ़ें –
रहस्यमय होती जा रही है नीतीश की चुप्पी, RJD-JDU की बयानबाजी से माहौल गरम
विपक्ष से गोपाल कृष्ण गांधी होंगे उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, नीतीश की भी हैं पसंद