IT की रेड पर सीएम नीतीश ने पूछा – इसका मकसद क्या है?

पटना : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के कथित ठिकानों पर मंगलवार को हुई इनकम टैक्स विभाग की रेड पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी प्रतिक्रिया दी है. इस मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि पहले यह तो पता चले कि छापेमारी कहां हो रही है. यह कोई नहीं बता रहा है. उन्होंने कहा कि मीडिया में आ रहा है कि 22 जगह छापेमारी चल रही है. इसका मकसद क्या है वो तो पता चलना चाहिए.

बता दें कि मंगलवार सुबह ही मीडिया में ऐसी ख़बरें आयीं कि दिल्ली और आसपास के 22 ठिकानों पर इनकम टैक्स विभाग की टीमें रेड कर रही हैं. यह रेड लालू प्रसाद और उनकी फैमिली द्वारा करीब 1000 करोड़ रूपये के कथित बेनामी संपत्ति सौदे को लेकर की गयी है. विभाग के अधिकारियों के हवाले से टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने बताया है कि करीब 100 लोगों की टीम लालू प्रसाद और उनके बेनामी संपत्ति सौदे से जुड़े लोगों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

फाइल फोटो

उधर इनकम टैक्स विभाग द्वारा रेड की खबर आने के बाद बिहार के राजनीतिक हलकों में बयानबाजी का दौर शुरु हो गया. मुख्यमंत्री द्वारा इस मामले में प्रतिक्रिया देने से पहले राजद और कांग्रेस के कई नेताओं ने इस रेड पर सवाल खड़े किये. उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार द्वारा यह रेड विपक्षी एकता ख़त्म करने के लिए की जा रही है.

वहीं जदयू नेता पवन वर्मा ने कहा कि कानून अपना काम कर रहा है. अगर कुछ निकलकर सामने आता है तो हम उस बात का ध्यान रखेंगे. कानून के तहत जो भी कार्रवाई की जानी है उसे केंद्र सरकार को ही करना होगा. सोमवार को लोक संवाद कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी कहा था कि अगर बीजेपी नेताओं के पास सबूत हैं तो वो आगे बढ़े.

यह भी पढ़ें :

कौन है BJP का नया Alliance Partners, लालू के Tweet से भूचाल

मोदी बोले- नहीं चाहते थे नीतीश कि उनकी कलम से हो लालू पर कार्रवाई

लालू प्रसाद के साथ प्रेमचंद गुप्ता भी इनकम टैक्स के लपेटे में

लालू प्रसाद के खिलाफ IT का एक्शन, 22 ठिकानों पर रेड