मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने यह फैसला आज बुधवार की शाम जदयू विधानमंडल दल की बैठक में ले लिया था. इसके बाद उन्होंने राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी से मिलने का वक़्त माँगा था. राज्यपाल से उन्हें तुरंत वक़्त मिला और वो बैठक के बाद राजभवन की तरफ रवाना हो गए थे. वहां राज्यपाल से मिल उन्होंने अपना इस्तीफा सौंप दिया. थोड़ी देर में राजभवन से निकल कर नीतीश कुमार मीडिया से बात करेंगे.

गौरतलब है कि इससे पहले बुधवार शाम जदयू के विधानमंडल दल की बैठक हो रही थी. आधिकारिक रूप से इसका एजेंडा आगामी मॉनसून सत्र था. लेकिन माना यही जा रहा था कि बैठक में डिप्टी सीएम तेजस्‍वी यादव के इस्‍तीफे सहित वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों पर भी चर्चा हुई होगी.

इससे पहले डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने आज ही कहा था कि राजद ने तय किया है कि हम इस्तीफा नहीं देंगे और जदयू कोई पुलिस नहीं है जो उसके प्रवक्ता इस्तीफा मांग रहे हैं. उन्होंने फिर दुहराया कि महागठबंधन में कोई दरार नहीं है. डिप्टी सीएम ने कहा कि हमें जनता ने चुनकर भेजा है और हम जनता को ही सफाई देंगे और लाखों लोगों के बीच अपनी सफाई देंगे.

उनके पिता और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने भी डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के इस्तीफे को लेकर कहा था कि मेरी सीएम नीतीश कुमार से बात हो गई है. महागठबंधन में सब ठीक चल रहा है. कोई मतभेद नहीं है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार महागठबंधन के नेता है. उनको लेकर किया गया अनादर भाव राजद की ओर से बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. नीतीश कुमार ने कभी तेजस्वी यादव का इस्तीफा नहीं मांगा है.

सीबीआई की FIR में नामजद डिप्‍टी सीएम तेजस्‍वी यादव के इस्‍तीफे को लेकर भाजपा ने विधानमंडल के मॉनसून सत्र को बाधित करने का अल्‍टीमेटम दिया था. जदयू ने भी कई बार मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के भ्रष्‍टाचार के प्रति ‘जीरो टॉलरेंस’ की बात कही थी.

यह भी पढ़ें –

लालू प्रसाद का बड़ा बयान, नीतीश से हो गई है बात, तेजस्वी नहीं देंगे इस्तीफा

भाजपा-आरएसएस तोड़ना चाहते हैं महागठबंधन, मैं नहीं दूंगा इस्तीफा