नीतीश कुमार के फैसले से हमें गहरी निराशा हुई है : कांग्रेस

लाइव सिटीज डेस्क: कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री पद से नीतीश कुमार द्वारा इस्तीफा दिए जाने पर गहरी निराशा जाहिर की. कांग्रेस ने कहा कि पार्टी महागठबंधन के घटकों के बीच उपजे वैचारिक मतभेदों को दूर करने की कोशिश करेगी, ताकि पांच साल के लिए मिले जीत के जनादेश का सम्मान किया जा सके.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, “बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस्तीफे की खबर से हमें गहरी निराशा हुई है. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में हम, खासतौर से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के भीतर नीतीश कुमार के लिए एक राजनेता के रूप में बहुत सम्मान है”. उन्होंने कहा, “बिहार के लोगों ने महागठबंधन को उसकी नीतियों, सिद्धांतों और सामूहिक नेतृत्व के आधार पर पांच साल का जनादेश दिया था”.

सुरजेवाला ने कहा कि 2015 की जीत भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ एक जनादेश भी थी, जिन्होंने बिहार के लोगों का अपमान करने की कोशिश की थी. उन्होंने कहा, “बिहार के लोगों ने हमारी नीतियों, सिद्धांतों और नेतृत्व के आधार पर महागठबंधन को सम्मान दिया”. सुरजेवाला ने कहा, “हम लगातार कोशिश करेंगे कि बिहार के लोगों द्वारा पांच साल के लिए दिए गए जनादेश का पूरी तरह सम्मान किया जाए. जो भी वैचारिक मतभेद पैदा हुए हैं, उन्हें हम आपस में सौहाद्र्रपूर्ण तरीके से बातचीत कर दूर करने की कोशिश करने की कोशिश करेंगे”. वहीं बिहार में कांग्रेस की युवा इकाई ने नीतीश कुमार के विरोध में गुरुवार को विश्वासघात दिवस मनाने का फैसला किया है.