बिहार की जनता मनी लांड्रिंग किंग के पार्टनर सुमो के भाइयों का दीदार करना चाहती है : तेजस्वी

tejashwi.collage

पटना (नियाज़ आलम) : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की बेटी हेमा यादव पर सुशील मोदी के हमले के बाद उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने पलटवार किया है. उपमुख्यमंत्री ने कहा है कि सुशील मोदी की काली कारगुजारियों से बिहार की जनता वाक़िफ़ हो चुकी है. इनकी झूठ की राजनीति अब चलने वाली नहीं है.

तेजस्वी ने कहा है कि झूठ और असत्य की चादर ओढ़े स्वयं घोषित तथाकथित ईमानदार सुशील मोदी पहले लाखों करोड़ के मालिक अपने भाईयों को तो सामने लाएं. पर्दाफ़ाश हो जाएगा. उन्होंने कहा कि बिहार की 10 करोड़ जनता लाखों करोड़ के मालिक और बेनामी व मनी लांड्रिंग के बादशाह के पार्टनर सुशील मोदी के भाईयों का दीदार करना चाहती है.

tejashwi.collage

तेजस्वी ने कहा कि बिहार की जनता जानना चाहती है कि कैसे 2005 में सुशील मोदी के उपमुख्यमंत्री बनने के बाद इनके भाईयों की संपति में लाखों करोड़ की वृद्धि हुई. कैसे इनके भाई राजकुमार मोदी की रियल इस्टेट कंपनी आशियाना होम्ज़ ने मनी लांड्रिंग के बेताज बादशाह और बेनामी एंट्री घुमाने वाले के साथ अपना कारोबार बढ़ाया? कैसे सुशील मोदी के दूसरे भाई ने पटना में उनके उपमुख्यमंत्री रहते नियमों की धज्जियाँ उड़ाते हुए अपने रियल इस्टेट कारोबार को फलीभूत किया?

बता दें कि भाजपा नेता सुशील मोदी ने आरोप लगाया है कि कैसे लालू प्रसाद के खटाल में काम करने वाले ललन चौधरी ने राजद सुप्रीमो की पांचवी बेटी हेमा यादव को 68 लाख की जमीन दान में दे दी. सुमो ने कहा है कि ललन चौधरी ने पहले राबड़ी देवी को 31 लाख से ज्यादा की जमीन दी और उसके 18 दिन बाद ही हेमा यादव को 68 लाख की जमीन दान में दे दी. भाजपा नेता ने सवाल किया है कि सीवान निवासी ललन चौधरी बीपीएल कार्डधारक हैं, फिर उनके पास करोड़ों की संपत्ति कहां से आई? सुमो ने ललन यादव को मीडिया के सामने पेश करने की भी मांग की है.

यह भी पढ़ें –
‘अब हेमा यादव पर मेहरबान हुए ललन चौधरी, दान में दे दी 68 लाख की जमीन’
दीघा-सोनपुर पुल निरीक्षण को निकले तेजस्वी, शनिवार तक काम पूरा करने का दिया निर्देश
‘अपने पापा को गिफ्ट दे रहे थे तेजस्वी, भाजपा के विरोध पर जनता को समर्पित हुआ पुल’
किसानों की मौत पर भड़के तेजस्वी, कहा- क्या यही है New India