CBI छापे के बाद दफ्तर नहीं गए हैं तेजस्वी यादव

TEJASHWI1

पटना : विवाद तो पहले से पीछा कर रहे थे तेजस्वी यादव का. लेकिन पहले तेजस्वी से अधिक लालू प्रसाद के बड़े पुत्र स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव अधिक घिरे थे. लेकिन 7 जुलाई को सीबीआई की छापेमारी के बाद डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव अधिक परेशान हो गए हैं. जदयू ने मुसीबत और बढ़ा दी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जदयू की बैठक में बहुत कुछ बोल चुके हैं. दबाव इस्तीफे का है. पर, तेजस्वी तैयार नहीं हैं. वे डिप्टी सीएम के रूप में अपने को पाक-साफ़ बताने में लगे हैं.

किन्तु, इन सब के बीच तेजस्वी यादव के बारे में बड़ी खबर यह बन रही है कि वे अपने मंत्रालयों में नहीं जा रहे हैं. तेजस्वी के पास पथ निर्माण जैसे महत्वपूर्ण विभाग के साथ-साथ भवन निर्माण और पिछड़ा-अति पिछड़ा कल्याण विभाग का जिम्मा भी है. तेजस्वी मुख्य रूप से पथ निर्माण विभाग के मंत्री कक्ष में ही बैठते रहे हैं. सीबीआई छापे के पहले वे नियमित तौर पर कार्यालय आते रहे हैं. जिम्मे के दूसरे विभागों की संचिकायें भी यहीं आ जाती थी.

TEJASHWI1

पथ निर्माण विभाग के अधिकारियों ने माना कि 7 जुलाई से ही तेजस्वी यादव विभाग में नहीं आये हैं. हालांकि, जरुरी संचिकाओं को निष्पादन के लिए उनके आवास पर भेजा जा रहा है. निष्पादित होकर कुछ संचिकायें वापस भी हुई हैं. इस बीच तेजस्वी विभाग भले न आये हों, बिहार मंत्रीपरिषद की बैठक में शामिल होने को वे जरुर गए थे. यहीं, सीबीआई छापे के बाद उनकी पहली मुलाक़ात मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से हुई. वापसी में तेजस्वी के सुरक्षा गार्ड मीडिया वालों से भिड गए, जिसे लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है. पत्रकारों पर हमले मामले की जांच अब बिहार के अपर पुलिस महानिदेशक (लॉ एंड आर्डर) आलोक राज को 72 घंटों के भीतर करना है.

सियासत के संकट ने तेजस्वी यादव को जितना परेशान कर रखा हो, दुनिया के सामने वे सामान्य दिखने का प्रयास कर रहे हैं. इसी कड़ी में उन्होंने पिछले दिनों घर के बच्चों के साथ क्रिकेट खेलते हुए तस्वीर और वीडियो सोशल मीडिया के प्लेटफ़ॉर्म पर शेयर किया. लेकिन इन सब के बावजूद इस्तीफे का दबाव कम नहीं हुआ है और ऐसे में जब वे दफ्तर नहीं जा रहे, तो दुनिया अंदरखाने की उठापटक को नोटिस तो कर ही रही है.

यह भी पढ़ें –
डिप्टी सीएम तेजस्वी के सुरक्षाकर्मी-पत्रकार भिड़ंत की होगी उच्चस्तरीय जांच
भाजपा नहीं, लालू ने तेजस्वी को फंसाया – सुशील मोदी
खतरे में कुर्सी, पर बेफ्रिक बच्चों संग क्रिकेट खेलते दिखे उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव