‘लालू चारा खा गए, अब नीतीश पशु खा जाएंगे’

पटना (नियाज़ आलम) : नीतीश सरकार में पशुपालन मंत्री अवधेश सिंह के बूचड़खाने वाले बयान पर सियासत तेज हो गई है. बीजेपी और ‘हम’ पार्टी ने राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. नीतीश के मंत्री का बयान बीजेपी पचा नहीं पा रही है.

पशुपालन विभाग द्वारा बूचड़खानों पर दिए गए फैसले को लेकर प्रदेश भाजपा ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है.बीजेपी प्रवक्ता नवल किशोर यादव ने महागठबंधन की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश सरकार की चले तो वो बूचड़खाने क्या आदमी वधशाला खोल दे. नवल किशोर ने लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले की सरकार पशुओं का चारा खा गई और अब नीतीश सरकार पशु ही खा जाएगी.उधर पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी की पार्टी हम ने भी पशुपालन विभाग के फैसले का विरोध किया है. पार्टी प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा है कि नए बूचड़खानो को लाइसेंस देने का फैसला सरकार तुरंत प्रभाव से वापस ले.

बता दें कि बिहार सरकार के दर्जनभर विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक में पशुपालन मंत्री अवधेश सिंह बूचड़खाने पर चर्चा की. उन्होंने नगर विकास विभाग को ये निर्देश दे दिया कि राज्य में वैध बूचड़खानों के अलावा जो लोग इच्छुक हैं उन्हें सलॉटर हाउस खोलने के लाइसेंस दिए जाएंगे.

मालूम हो कि रविवार को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेंस में गौरक्षा के नाम पर होने वाली हिंसा को ले मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया था.

लालू प्रसाद ने कहा था कि एक तरफ गौरक्षा के नाम पर हिंसा हो रही है.

कोई दूध के लिए भी जानवरों को ले जा रहा है तो उसके साथ मारपीट कर जानवरों को छीन लिया जाता है. दूसरी तरफ भारत बीफ निर्यात में शीर्ष स्थान पर पहुंच रहा है. 300 मेट्रिक टन बीफ भारत से निर्यात किया जा रहा है.

उन्होंने कहा था कि मोदी सरकार की बीफ निर्यात को पूरी सहमति है, और यह बात वह पूरी जिम्मेदारी से बोल रहे हैं.

यह भी पढ़ें-
सुशील मोदी : जब केंद्र लालू के खिलाफ कार्रवाई करेगा, तो नीतीश किसके पक्ष में खड़े होंगे?
RJD की रैली से कांप रही है BJP, बेचैनी में बयान दे रहे हैं भाजपा नेता