‘परजीवी पौधे की तरह हैं शिवानंद तिवारी, जिसकी अपनी कोई जड़ नहीं’

पटना(नियाज आलम) : चारा घोटाला और बेनामी संपत्ति के आरोपों से घिरे आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद के बचाओ में मोर्चा संभाले आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी पर भाजपा ने जमकर निशाना साधा है. प्रदेश भाजपा प्रवक्ता संजय टाइगर ने शिवानंद तिवारी को अवसरवादी करार दिया है.

संजय टाइगर ने कहा है कि तिवारी अपनी अवसरवादी प्रवृत्ति के कारण ही कभी नीतीश कुमार तो कभी लालू प्रसाद के दरबारी बनकर सत्ता का स्वाद चखते रहे हैं. भाजपा प्रवक्ता ने सवाल किया है कि तिवारी बताएं की अभी वो किस दल में हैं? उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद जब राजनीतिक हाशिये पर पहुंच गए तो तिवारी ने खुद को सक्रिय राजनीति से अलग करने की घोषणा की थी. लेकिन जब से आरजेडी सुप्रीमो के दिन पलटे हैं, तिवारी की उम्मीदें करवटें लेने लगी हैं. वो एक बार फिर राज्यसभा में जाने के लिए लालू की पैरोकारी कर रहे हैं.

संजय टाइगर यही नहीं रुके उन्होंने कहा की शिवानंद तिवारी की लालू भक्ति और महागठबंधन की तरफदारी के पीछे उनका पुत्र मोह भी एक कारण है. लालू प्रसाद की कृपा से विधायक बने बेटे को मंत्री बनवाने के लिए तिवारी ने लोक-लाज की परवाह भी छोड़ दी है. भाजपा प्रवक्ता ने सख्त लहजे में कहा कि तिवारी को यह नहीं भूलना चाहिए कि लालू-नीतीश के खिलाफ उनका बयान जनता के ज़ेहन में आज भी है.

उन्होंने कहा की शिवानंद तिवारी का कोई जनाधार तो है नहीं. वो एक ऐसे परजीवी पौधे की तरह हैं जिसकी अपनी कोई जड़ नहीं है. वो दूसरे पौधे के सहारे जीवित रहता है. संजय टाइगर ने चेतावनी देते हुए कहा की तिवारी भाजपा की चिंता छोड़कर अपनी चिंता करें. भाजपा के विजय रथ को रोकने की कोशिश करने वाले महागठबंधन को यूपी चुनाव में अपनी हैसियत का पता चल चुका है.

यह भी पढ़ें-
शिवानंद तिवारी का सुमो पर हमला किसी ने जमीन दी, इसमें उनके बाप का क्या
बिहार में जल्द होगा मिड-टर्म चुनाव, 6 महीने में गिर जाएगी महागठबंधन सरकार