‘तेजस्वी बताएं, 26 साल की उम्र में कहां से आयी 26 संपत्ति’

sushil-modi-12
फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्क : भाजपा के वरीय नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद व उनकी फैमिली पर निशाना साधा है. उन्होंने खासकर डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव पर सवाल उठाते हुए कहा कि कौन सा व्यापार या बिजनेस करके वे 26 साल की उम्र में 26 संपत्तियों के मालिक बन गये.

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 26 में से 13 संपत्ति तो ऐसी है, जो उनके नाम पर रजिस्टर्ड है. डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को बताना चाहिए कि वे इतनी कम उम्र में वे कैसे करोड़ों के मालिक बन गये. इन संपत्तियों की रजिस्ट्री तब की गयी है, जब लालू प्रसाद रेल मंत्री थे. वहीं बाकी की 13 संपत्ति विभिन्न कंपनियों के नाम से ट्रांसफर हुई है.

भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी के प्रेस कॉन्फ्रेंस के मुख्य अंश

* तेजस्वी प्रसाद यादव एवं 7 अन्य पर सीबीआई Criminal Conspiracy, Cheating & Criminal misconduct का FIR IPC की धारा r/w 420 तथा Prevention of Corruption Act 1988  की धारा 13(2) r/w 13(1)(d) के तहत दर्ज किया है

* FIR में कहा गया है कि 2010 से 2014 के बीच प्रेमचन्द्र गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता ने Delight Marketing Co. को राबड़ी देवी एवं तेजस्वी यादव को स्थानान्तरित कर दिया यानि जिस समय तेजस्वी यादव कंपनी के मालिक बने वो Adult थे, उन्हें दाढ़ी-मूंछ थीं.

* FIR में यह भी कहा गया है कि 2014 (जब तेजस्वी 24 वर्ष के थे) में जब Delight Marketing के शेयर पूरी तरह से तेजस्वी को transfer  किए गए उस समय बाजार दर 94 करोड़ तथा circle rate 32.5 करोड़ की जमीन को मात्र 65 लाख में कब्जे में ले लिया गया.

*  जब तेजस्वी यादव नाबालिग थे (16 वर्ष), उस समय उन्हें कांति सिंह और रघुनाथ झा की करोड़ों की जमीन सहित मकान दान में स्वीकार करने में कोई हिचक नहीं हुई.

*  तेजस्वी यादव के नाम गोपालगंज और पटना में कुल 13 सम्पत्ति रजिस्टर्ड है. ये सभी सम्पत्ति उस समय रजिस्ट्री करायी गयी, जब वो नाबालिग थे.

* 2 सम्पत्ति तब रजिस्ट्री हुई, जब वो मात्र 3 वर्ष के थे. बाकी सभी सम्पत्ति जब लालू जी रेल मंत्री थे, उस दौरान तेजस्वी यादव के नाम रजिस्ट्री की गयी.

* यानि नाबालिग रहते उन्होंने इतनी सम्पत्ति इकट्ठा कर ली, लेकिन उस समय उन्होंने कभी सम्पत्ति लेने से इनकार नहीं किया.

* Delight Marketing की 3 एकड़ जमीन जब सरला गुप्ता ने तेजस्वी को 2013-14 में सौंपी उस समय वे दाढ़ी-मूंछ सहित पूर्ण बालिग थे.

* जब तेजस्वी ने 3 एकड़ जमीन पर 7 लाख 66 हजार Sq. ft. के 12  मंजिला बिहार के सबसे बड़े माॅल के निर्माण का agreement 5 मई, 2016 को सुरसंड विधायक दोजाना की कम्पनी के साथ किया. उस समय तेजस्वी केवल दाढ़ी-मूंछ वाले ही नहीं, बल्कि राज्य सरकार के उपमुख्यमंत्री भी थे.

* Delight Marketing, AB Exports, AK Infosystem के माध्यम से जब तेजस्वी दिल्ली एवं पटना की 13 अन्य सम्पत्ति (मकान सहित) के मालिक बने, उस समय तेजस्वी दुधमुंहा बच्चा नहीं, बल्कि 23 वर्ष की उम्र थी एवं पूर्ण बालिग थे.

* इस प्रकार तेजस्वी यादव कुल 26 सम्पत्ति के मालिक हैं. इसमें से 13 सम्पत्ति कम्पनियों के माध्यम से है और 13 सम्पत्ति जो उनके नाम से रजिस्ट्री हुई है.

* कुल 26 सम्पत्ति में से 13 के मालिक वे तब बने, जब वे या तो दुधमुंहे बच्चे थे या 8-9 की कक्षा में पढ़ाई कर रहे थे और 13 के मालिक तब बने जब वे 24 वर्ष की उम्र के थे. दाढ़ी-मूंछ थीं और पूर्णतया बालिग थे.

* उपरोक्त 26 में से 13 सम्पत्ति को आय कर विभाग ने बेनामी घोषित कर औपबन्धिक रूप से जब्त कर लिया है.

* Gift लेते समय या जमीन लिखवाते समय कभी नहीं कहा कि मुझे दाढ़ी/मूंछ नहीं है, इसलिए जमीन नहीं लूंगा, परन्तु दाढ़ी/मूंछ होने पर 13 बेनामी सम्पत्ति के मालिक बन गए और फंस गए तो कहते हैं कि मुझे तो उस समय दाढ़ी/मूंछ भी नहीं थी.

इसे भी पढ़ें : जदयू का हमला : बेचैन रहते हैं सुशील मोदी, विधवा विलाप में माहिर हैं बीजेपी नेता 
इस लड़ाई में सब फंसे हैं, सवाल तो BJP में सुशील मोदी से भी पूछा जा रहा है 
महागठबंधन में मतभेद नहीं’ वाले बयानों पर सुशील मोदी ने ली है चुटकी, आप भी पढ़ें